इंग्लैंड का वह सलामी बल्लेबाज, जिसे मुश्किलों ने बनाया मजबूत, महज़ 8 साल की उम्र में साहा पिता को खोने का दर्द

    नई दिल्ली: इंग्लैंड (England Cricket Team) के सलामी बल्लेबाज जॉनी बेयरस्टो (Jonny Bairstow Birthday) का आज यानी 26 सितंबर (26 September) को जन्मदिन है। जॉनी बेहद ही शानदार बल्लेबाज हैं, जो अच्छे-अच्छे गेंदबाजों के छक्के छुड़ाने में माहिर हैं। उनका जन्म आज ही के दिन 1989 में वेस्ट यॉर्कशायर (West Yorkshire) में हुआ था। इस साल जॉनी अपना 32वां जन्मदिन मना रहे हैं।

    जॉनी ने अपने करियर की शुरुआत मध्यक्रम के बल्लेबाज के रूप में की थी। वह एक बेहतरीन विकेटकीपर (Jonny Bairstow Wicketkeeper) भी हैं। 2017 में इयोन मॉर्गन (Eoin Morgan) ने उन्हें इंग्लैंड के लिए पारी की शुरुआत करने के लिए कहा था, जो उनका सर्वश्रेष्ठ पारी रही। उन्होंने अपनी शानदार पारी की बदौलत राष्ट्रीय टीम में अपनी जगह भी पक्की कर ली थी। 

    वर्ल्ड कप में बेयरस्टो का कमाल 

    इंग्लैंड ने 2019 के वर्ल्ड कप में धमाल मचा कर इस ख़िताब को अपने नाम कर लिया था। इस दौरान टीम को प्वाइंट टेबल में टॉप 4 में जगह बनाने के लिए आखिरी लीग मैच जीतना जरूरी था। उस समय मुकाबला न्यूजीलैंड से था। इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 305 रन बनाए। बेयरस्टो ने उस मैच में शानदार पारी खेलते हुए 106 रन बनाए थे। उनकी टीम ने ये मुकाबला 119 रन से जीता और सेमीफाइनल में जगह पक्की की। बेयरस्टो ने पूरे वर्ल्ड कप के दौरान टीम के लिए 53 की औसत से 532 रन बनाए और 2 शतक भी लगाए थे।

    मुश्किलों ने बनाया मज़बूत 

    बेयरस्टो का करियर संघर्षों से भरा रहा है। उनका बचपन भी काफी अच्छा नहीं रहा। उन्होंने महज़ 8 साल की उम्र में ही अपने पिता को खो दिया। उस समय उनकी मां जैनेट भी कैंसर से जूझ रही थीं। एक इंटरव्यू में बेयरस्टो ने कहा था- मुश्किलों ने ही हमारे परिवार को मजबूत बनाया है। बेयरस्टो के परिवार में उनकी मां के अलावा बहन बेकी और भाई एंड्र्यू हैं।

    कर्ज की वजह से पिता ने दी थी जान 

    1998 में बेयरस्टो के पिता ने कर्ज और डिप्रेशन की वजह से आत्महत्या कर ली थी। द गार्डियन को दिए इंटरव्यू में बेयरस्टो ने बताया था- जब हमें पिता घर पर उस हालत में मिले थे और मैं सिर्फ 8 साल का था। उस समय यह समझ पाना मुश्किल था कि हुआ क्या है। उस समय मुझे ये पता था कि मां को कैंसर है, क्योंकि कीमोथेरेपी की वजह से उनके बाल जा चुके थे।

    मां बहुत दर्द में थी, लेकिन फिर भी उन्होंने हमें जिस तरह से संभाला वह मामूली नहीं था। सबसे ज़्यादा दुःख की बात यह थीं कि पिता की मौत के अगले ही दिन मां का जन्मदिन था। इस दिन उन्होंने मुझे और मेरी बहन को स्कूल भेजा। उन्होंने कहा था कि हमें हालात से निपटना होगा। मुश्किलों ने ही हमारे परिवार को काफी मजबूत बनाया है। 

    पिता की तरह विकेटकीपर बने जॉनी बेयरस्टो

    जॉनी बेयरस्टो दुनिया के सबसे खतरनाक विकेटकीपर-बल्लेबाज़ों में से एक हैं। उनके पिता भी एक बेहतरीन विकेटकीपर हुआ करते थे। जॉनी के पिता डेविड बेयरस्टो ने 20 सालों तक यॉर्कशायर के लिए काउंटी क्रिकेट खेला, इस दौरान उन्होंने 459 फर्स्ट क्लास और 429 लिस्ट ए मैच खेले। डेविड बेयरस्टो ने अपने करियर में कुल 19,400 रन बनाए, वहीं उन्होंने 1372 कैच भी लपके थे।

    जॉनी बेयरस्टो का करियर 

    जॉनी बेयरस्टो ने इंग्लैंड के लिए 78 टेस्ट, 89 वनडे और 57  टी20 मैच खेल चुके हैं। जॉनी बेयरस्टो साल 2019 में वर्ल्ड कप जीतने वाली इंग्लैंड की टीम का हिस्सा भी रहे हैं। जॉनी बेयरस्टो ने अपने अब तक के टेस्ट क्रिकेट में 4381 रन बना चुके हैं, वहीं वनडे में उन्होंने 3498 रन बनाए हैं। जबकि टी20 में उन्होंने 1143 रन बना चुके हैं। टेस्ट और ODI  में उन्होंने अब तक 17 शतक लगा चुके हैं। 

    आईपीएल में भी शानदार प्रदर्शन 

    आईपीएल की बात करें तो सनराइजर्स हैदराबाद (SRH) ने उन्हें 2019 की आईपीएल नीलामी में INR 2।2 करोड़ में खरीदा था। अब तक उन्होंने 28 आईपीएल मैच खेले हैं, जिसमें उन्होंने 1038 रन बना चुके हैं। वहीं आईपीएल में वह 1 शतक और 7 अर्धशतक जमाने में कामयाब रहे हैं। आईपीएल में उनका प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है।