South African batsman Heinrich Klaasen
PTI Photo

    कटक. दक्षिण अफ्रीका ने कसी गेंदबाजी के बाद हेनरिक क्लासेन (81 रन) की कमाल की अर्धशतकीय पारी से रविवार को यहां दूसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच में भारत को चार विकेट से हराकर पांच मैचों की श्रृंखला में 2-0 से बढ़त हासिल की। भारतीय बल्लेबाजों को दक्षिण अफ्रीका की कसी गेंदबाजी के खिलाफ खेलने में काफी दिक्कत हुई जिससे टीम बाराबती की मुश्किल पिच पर छह विकेट विकेट पर 148 रन ही बना सकी।

    भारतीय गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार (चार ओवर में 13 रन देकर चार विकेट) ने भी बेहतरीन गेंदबाजी करते हुए पावरप्ले में शुरूआती तीन विकेट अपने नाम किये लेकिन मध्य के ओवरों में विकेट नहीं चटकाने का खामियाजा भारत को दूसरी हार से भुगतना पड़ा।   इस लक्ष्य का पीछा करने उतरी दक्षिण अफ्रीका ने क्लासेन (46 गेंद, सात चौके, पांच छक्के) के अर्धशतक तथा कप्तान तेम्बा बावुमा (35 रन) के साथ चौथे विकेट के लिये 64 रन और फॉर्म में चल रहे डेविड मिलर (नाबाद 20 रन) के साथ पांचवें विकेट के लिये 51 रन की साझेदारी से 18.2 ओवर में 149 रन बनाकर जीत हासिल की।

    भुवनेश्वर ने पहले ही ओवर की अंतिम गेंद पर रीजा हेड्रिंक्स (04) को बोल्ड कर शानदार शुरूआत करायी जिन्होंने पारी की चौथी गेंद पर कवर प्वाइंट में चौका जड़ा था। उन्होंने फिर अपने दूसरे ही ओवर में ड्वेन प्रिटोरियस (04) को भी पवेलियन भेजकर दूसरा झटका दिया। दक्षिण अफ्रीका टीम दबाव में आ गयी थी और बावुमा (30 गेंद, चार चौके, एक छक्का) ने हाथ खोलते हुए हार्दिक पंड्या पर ऑफ साइड में शानदार छक्का जड़ा।

    भुवनेश्वर ने अपने तीसरे ओवर में रासी वान डर डुसेन (01) के स्टंप उखाड़ दिये। इससे दक्षिण अफ्रीका ने पावरप्ले के अंतिम ओवर में अपना तीसरा विकेट गंवाया और उसका स्कोर हो गया तीन विकेट पर 23 रन। इन झटकों से उबरने के लिये दक्षिण अफ्रीका को बड़ी साझेदारी की जरूरत थी जिसके लिये क्विंटन डि कॉक के चोटिल होने के कारण मैच में खेलने उतरे क्लासेन और बावुमा ने यह जिम्मेदारी निभायी।

    इन दोनों ने चौथे विकेट के लिये 41 गेंद में 64 रन की भागीदारी की। दक्षिण अफ्रीका का 10 ओवर में स्कोर तीन विकेट पर 57 रन था जिससे उसे 60 गेंद में 92 रन की जरूरत थी। बावुमा और क्लासेन ने टीम को दबाव से बाहर निकालने की कोशिश में कई अच्छे शॉट लगाये जिससे टीम ने 11वें और 12वें ओवर में क्रमश: 13 और 19 रन जोड़े। और इस भागीदारी को तोड़ने में भारत को अगले ही ओवर में सफलता मिली जब युजवेंद्र चहल (49 रन देकर एक विकेट) ने दक्षिण अफ्रीकी कप्तान को बोल्ड किया। बावुमा उनकी लेंथ को नहीं समझ सके और गेंद उनके मिडिल स्टंप उखाड़कर चली गयी।

    पिछले मैच में अर्धशतक जड़कर टीम को जीत दिलाने वाले मिलर अब क्रीज पर थे। उन्होंने क्लासेन को ज्यादा गेंदें खेलने पर तवज्जो दी। क्लासेन ने चहल के अंतिम ओवर में तीन छक्के जड़ दिये जिससे 16वें ओवर में 23 रन जुड़े। हर्षल पटेल ने 17वें ओवर में क्लासेन का विकेट झटका लेकिन तब तक बहुत देर हो चुकी थी। इससे पहले श्रेयस अय्यर (40 रन) भारत के लिये शीर्ष स्कोरर रहे जबकि इशान किशन ने शुरू में कुछ बेहतरीन शॉट्स खेलकर 21 गेंद में 34 रन की पारी खेली लेकिन मध्य के ओवरों में लय खो बैठे।

    फॉर्म में चल रहे ‘फिनिशर’ दिनेश कार्तिक को सातवें नंबर पर अक्षर पटेल के बाद भेजा गया जिससे ऋषभ पंत की अगुआई वाली भारतीय टीम के लिये चीजें और कठिन हो गयी। कार्तिक ने 21 गेंद में दो छक्के और दो चौके जमाकर नाबाद 30 रन की पारी खेली और टीम को सम्मानजनक स्कोर बनाने में मदद की। हर्षल पटेल (नौ गेंद में नाबाद 12 रन) ने उनका अच्छा साथ निभाया, इन दोनों ने मिलकर भारतीय रन गति में सुधार कर अंतिम तीन ओवर में 36 रन बनाये।

    इस चुनौतीपूर्ण पिच पर बल्लेबाजी का न्योता मिलने बाद किशन और अय्यर के बीच दूसरे विकेट के लिये 45 रन की छोटी भागीदारी को छोड़ दें तो भारतीय बल्लेबाज जूझते नजर आये। कागिसो रबाडा ने गेंदबाजी शुरू की और पहले ही ओवर में भारत को झटका दे दिया। सलामी बल्लेबाज रूतुराज गायवाकड़ (01) गुड लेंथ गेंद को खेलने का प्रयास में बैकवर्ड प्वाइंट पर महाराज को आसान सा कैच देकर आउट हुए। रबाडा ने अपने चार ओवर में 15 रन देकर एक विकेट झटका जिसमें 13 ‘डॉट’ गेंद थीं।

    धीमी शुरूआत के बाद किशन (21 गेंद में 34 रन) ने पावरप्ले में कुछ तेजी दिखायी जिसमें उन्होंने एनरिच नोर्किया पर दो छक्के जड़कर रन गति सुधारी। किशन को पावरप्ले के अंतिम ओवर में जीवनदान मिला जब पार्नेल उनका कैच लपकने से चूक गये। पावरप्ले में भारत का स्कोर एक विकेट पर 42 रन था।

    कोटला में पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय में अर्धशतक जड़ने वाले किशन ने स्क्वायर लेग पर अपने पसंदीदा शॉट लगाये। उनकी पारी में तीन छक्के और दो चौके जड़े थे। लेकिन जब यह यह साझेदारी मजबूत होती दिख रही थी तब नोर्किया ने मुंबई इंडियंस के सलामी बल्लेबाज का विकेट झटक लिया जो डीप स्क्वायर लेग पर कैच आउट हुए। (एजेंसी)