File Photo
File Photo

    -विनय कुमार

    न्यूजीलैंड के खिलाफ ‘आईसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल 2021’ में फिलहाल भर की स्थिति बहुत मजबूत नहीं है। टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli Captain Indian Cricket Team) की ‘सेना’ ने इस मैच की तीसरी पारी में 2 विकेट के नुकसान पर पांचवें दिन के खत्म होने तक 64 रन बना लिए हैं। देखा जाए तो इस समय न्यूजीलैंड की पहली पारी के स्कोर के सामने भारत सिर्फ 32 रनों की बढ़त में है और अभी कीवी टीम की दूसरी पारी की बल्लेबाजी बाकी भी है। WTC Final के अंतिम दिन यानी आज, धूप के साथ दिन का पूरा खेल होने की उम्मीद जताई जा रही है, लेकिन  के साथ यह भारत चाहेगा कि कोई जोखिम नहीं लिया जाए और सधी हुई बल्लेबाजी की जाए।

    भारतीय टीम के घातक तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) ने इशारा दिया है कि टीम इंडिया पहले खुद को सेफ करना चाहेगी। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, “बारिश की वजह से हमने काफी समय गंवा दिया है। अभी हमारी दूसरी पारी शुरू हुई है, और हमें कोर बोर्ड पर रन जोड़ने की जरूरत है।”

    WTC फाइनल के जारी मैच में न्यूजीलैंड की बल्लेबाजी की पहली पारी में 4 विकेट चटकाने वाले घातक तेज़ गेंदबाज मोहम्मद शमी अपने प्रदर्शन से संतुष्ट थे, जिसने भारत को काफी हद तक मैच में वापसी करने में योगदान दिया। उन्होंने कहा, “जाहिर है जब आप टेस्ट मैच (Test Match) खेलते हैं, तो आप 5 दिनों के लिए एक रणनीति पर टिके नहीं रह सकते। आपको लचीला (flexible) रहना चाहिए और ट्रैक के मुताबिक लाइनें सेट करनी चाहिए। हमें उन लाइनों पर गेंदबाजी करने की जरूरत थी, जो न्यूजीलैंड (WTC IND vs NZ) को कम स्कोर पर समेटने में हमें टीम मदद करे। इसलिए दबाव ने गति ली और हमने विकेट झटके।”

    प्रेस कांफ्रेंस में टीम इंडिया के शानदार तेज़ गेंदबाज मोहम्मद शमी (Mohammed Shami) इस बात से काफी खुश नजर आए कि इस पारी में उनकी रणनीति काम आई और उन्होंने कीवी टीम का किला ढहाने में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।  

    मोहम्मद शमी ने कहा, “जब भी मुझे जिम्मेदारी दी गई है, मैंने अपनी पूरी ताकत लगाई है। स्थिति कैसी भी हो, मुझे मालूम है कि कप्तान (Captain) को क्या चाहिए। और, फिर मैं उसके निर्देशों का पालन करता हूं। मैं हमेशा ही एक आक्रामक बोलर रहा हूं, जो विकेट हासिल करना चाहता है।” न्यूजीलैंड की पहली पारी की बल्लेबाजी में 4 विकेट हॉल करने वाले मोहम्मद शमी को 5 विकेट न मिलने का कोई मलाल नहीं है। उन्होंने कहा, “जब आप भारत (India) के लिए खेलते हैं, तो आपको ऐसा कोई पछतावा नहीं होता है। आप व्यक्तिगत उपलब्धि के बारे में नहीं सोच सकते।”