पाकिस्तानी गेंदबाज हसन अली को ICC ने इस वजह से लगाई कड़ी फटकार, बांग्लादेश पर स्लो ओवर गति के लिए जुर्माना

    दुबई: पाकिस्तानी गेंदबाज हसन अली को शनिवार को आईसीसी आचार संहिता के उल्लंघन के लिये फटकार लगायी गयी जबकि ढाका में पहले टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान धीमी ओवर गति के लिये बांग्लादेश के खिलाड़ियों की मैच फीस का 20 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया। 

    यह घटना बांग्लादेश की पारी के 17वें ओवर में हुई जब हसन ने बल्लेबाज नुरूल हसन को आउट करने के बाद अनुचित तरीके से इशारा किया जिससे उन्होंने आईसीसी आचार संहिता के खिलाड़ियों और सहयोगी स्टाफ से संबंधित अनुच्छेद 2.5 के लेवल एक का उल्लघंन किया जो ‘‘एक अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान ऐसी भाषा, एक्शन और भाव भंगिमा से संबंधित है जो बल्लेबाज को आउट होने के बाद आक्रामक प्रतिक्रिया करने के लिये उकसा सकती है।”  

    अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने एक बयान में कहा, ‘‘इसके अलावा हसन के अनुशासनात्मक रिकार्ड में एक डिमैरिट अंक जोड़ दिया है जिनका यह 24 महीने में पहला उल्लघंन है।” बांग्लादेश के खिलाड़ियों पर मैच के दौरान धीमी ओवर गति के लिये उनकी मैच फीस का 20 प्रतिशत जुर्माना लगाया गया है जिन्हें निर्धारित समय से एक ओवर कम पाया गया।  

    आईसीसी ने कहा, ‘‘आईसीसी आचार संहिता के अनुच्छेद 2.22 के अनुसार खिलाड़ियों पर निर्धारित समय में गेंदबाजी में टीम के प्रत्येक ओवर कम फेंकने के लिये 20 प्रतिशत मैच फीस का जुर्माना लगाया जाता है।” हसन और बांग्लादेशी कप्तान महमूदुल्लाह ने मैच रैफरियों के एमिरेट्स आईसीसी अंतरराष्ट्रीय पैनल के नीयामुर राशिद द्वारा प्रस्तावित अपने उल्लघंन स्वीकार कर लिये हैं जिससे आधिकारिक सुनवाई की जरूरत नहीं पड़ी। (एजेंसी)