Team Pakistan
Photo: PCB

    शारजाह. तेज गेंदबाज हारिस राउफ के करियर की सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी की बदौलत पाकिस्तान ने आईसीसी टी20 विश्व कप के सुपर 12 चरण के ग्रुप दो मुकाबले में मंगलवार को यहां न्यूजीलैंड को पांच विकेट से हराकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की। न्यूजीलैंड के 135 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए पाकिस्तान ने आठ गेंद शेष रहते पांच विकेट पर 135 रन बनाकर जीत दर्ज की।

    सलामी बल्लेबाज मोहम्मद रिजवान (33), अनुभवी शोएब मलिक (20 गेंद में नाबाद 26) और आसिफ अली (12 गेंद में नाबाद 27) ने टीम को लक्ष्य तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई। मलिक और आसिफ ने विषम परिस्थितियों में 3.5 ओवर में 48 रन की अटूट साझेदारी की। आसिफ ने अपनी पारी में एक चौके और तीन छक्के जबकि मलिक ने दो चौके और एक छक्का मारा। राउफ (22 रन देकर चार विकेट) की तूफानी गेंदबाजी के सामने न्यूजीलैंड की टीम आठ विकेट पर 134 रन ही बना सकी।

    स्पिनरों इमाद वसीम (24 रन पर एक विकेट) और मोहम्मद हफीज (16 रन पर एक विकेट) तथा तेज गेंदबाज शाहीन शाह अफरीदी (21 रन पर एक विकेट) ने भी राउफ का अच्छा साथ निभाया। न्यूजीलैंड ने नियमित अंतराल पर विकेट गंवाए और उसका कोई बल्लेबाज टिककर नहीं खेल पाया।

    सलामी बल्लेबाज डेरिल मिशेल और डेवोन कॉनवे 27-27 रन बनाकर टीम के शीर्ष स्कोरर रहे जबकि कप्तान केन विलियमसन ने 25 रन का योगदान दिया। लक्ष्य का करने उतरे पाकिस्तान की शुरुआत धीमी रही। टीम ने पावर प्ले में 30 रन बनाए और इस दौरान कप्तान बाबर आजम (09) का विकेट गंवाया जिन्हें टिम साउथी ने बोल्ड किया। भारत के खिलाफ पहले मैच में नाबाद अर्धशतक जड़ने वाले रिजवान एक बार फिर अच्छी लय में दिखे। उन्होंने ट्रेंट बोल्ट (29 रन पर एक विकेट) पर दो चौके जड़ने के अलावा साउथी (25 रन पर एक विकेट) की गेंद को भी बाउंड्री के दर्शन कराए।

    फखर जमां (11) को हालांकि बल्लेबाजी में परेशानी हो रही थी। उन्होंने ईश सोढ़ी (28 रन पर दो विकेट) पर छक्के के साथ दबाव कम करने का प्रयास किया लेकिन इसी लेग स्पिनर की गेंद पर पगबाधा हो गए। हफीज (11) ने पहली ही गेंद पर जेम्स नीशाम पर छक्के के साथ 10वें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया लेकिन बायें हाथ के स्पिनर मिशेल सेंटनर (33 रन पर एक विकेट) के अगले ओवर में कॉनवे ने उनका शानदार कैच लपका। सोढ़ी ने इसके बाद रिजवान को पगबाधा करके पाकिस्ता का स्कोर चार विकेट पर 69 रन किया। बीच के ओवरों में पाकिस्तान के बल्लेबाजों को बाउंड्री लगाने के लिए जूझना पड़ा। इमाद वसीम (11) ने बोल्ट पर चौका जड़ा लेकिन अगली गेंद पर पगबाधा हो गए।

    पाकिस्तान को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 44 रन की जरूरत थी। अनुभवी मलिक एक छोर पर डटे हुए थे। आसिफ अली ने साउथी पर लगातार दो छक्कों के साथ रन और गेंद के बीच के अंतर को कम किया। मलिक ने 18वें ओवर में सेंटनर पर चौका और फिर छक्के सहित 15 रन जुटाकर मैच पाकिस्तान के पक्ष में मोड़ दिया।

    टीम को अंतिम दो ओवर में नौ रन की जरूरत थी आसिफ ने बोल्ट पर छक्का और फिर दो रन के साथ टीम को जीत दिला दी। इससे पूर्व पाकिस्तान ने पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया जिसके बाद मार्टिन गुप्टिल (17) और पहली बार किसी भी प्रारूप में पारी का आगाज कर रहे मिशेल (27) ने न्यूजीलैंड को सतर्क शुरुआत दिलाई। गुप्टिल ने बायें हाथ के स्पिनर इमाद वसीम के लगातार ओवरों में चौके मारे।

    मिशेल ने हसन अली का स्वागत छक्के के साथ किया लेकिन राउफ ने गुप्टिल को बोल्ड कर दिया। न्यूजीलैंड ने पावर प्ले में एक विकेट पर 42 रन बनाए। मिशेल ने वसीम पर अपना दूसरा छक्का जड़ते हुए नौवें ओवर में टीम के रनों का अर्धशतक पूरा किया लेकिन अगली गेंद पर इसी शॉट को दोहराने की कोशिश में लांग आन पर फखर जमां को कैच दे बैठे। उन्होंने 20 गेंद का सामना करते हुए दो छक्के और एक चौका मारा। हफीज ने अगले ओवर में जेम्स नीशाम (01) को फखर के हाथों कैच कराके न्यूजीलैंड का स्कोर तीन विकेट पर 56 रन किया। बीच के ओवरों में पाकिस्तानी गेंदबाजों के दबदबे के बीच विलियमसन ने हफीज की लगातार गेंदों पर चौका और छक्का जड़कर रन गति में इजाफे का प्रयास किया।

    डेवोन कॉनवे ने भी लेग स्पिनर शादाब खान पर लगातार तीन चौके मारे। न्यूजीलैंड को अगले ओवर में बड़ा झटका लगा जब विलियमसन रन आउट हो गए। उन्होंने 26 गेंद की पारी में दो चौके और एक छक्का मारा। न्यूजीलैंड के 100 रन 15वें ओवर में पूरे हुए। राउफ ने गेंदबाजी में वापसी करते हुए कॉनवे (27) और ग्लेन फिलिप्स (13) को तीन गेंद के भीतर पवेलियन भेजकर न्यूजीलैंड की बड़े स्कोर तक पहुंचने की उम्मीदों को तोड़ा। कॉनवे ने 24 गेंद का सामना करते हुए तीन चौके जड़े।

    शाहीन ने टिम सीफर्ट (08) को हफीज के हाथों कैच कराया जबकि राउफ ने अंतिम ओवर में मिशेल सेंटनर (06) को बोल्ड करके चौथा विकेट हासिल किया। न्यूजीलैंड की टीम अंतिम सात ओवर में 44 रन ही जोड़ सकी। न्यूजीलैंड को मैच शुरू होने से पहले ही झटका लगा जब फॉर्म में चल रहे तेज गेंदबाज लॉकी फर्ग्युसन दाएं पैर की पिंडली में ‘ग्रेड दो’ की चोट के कारण टूर्नामेंट से बाहर हो गए। (एजेंसी)