Ishan Kishan vs ENG
Photo Twitter@BCCI

    दुबई. केएल राहुल (KL Rahul) और इशान किशन (Ishan Kishan) ने आकर्षक अर्धशतकीय पारियां खेलकर भारतीय शीर्ष क्रम की मजबूती की अच्छी बानगी पेश करने के साथ ही टीम को टी20 विश्व कप (T20 World Cup) के पहले अभ्यास मैच (Practice Match) में सोमवार को यहां इंग्लैंड (England) पर सात विकेट से जीत दिलायी। इंग्लैंड ने पहले बल्लेबाजी के लिये आमंत्रित किये जाने के बाद पांच विकेट पर 188 रन बनाये जिसमें जॉनी बेयरस्टॉ (36 गेंदों पर 49 रन) और मोईन अली (20 गेंदों पर नाबाद 43) ने अहम योगदान दिया। भारत की तरफ से मोहम्मद शमी ने 40 रन देकर तीन विकेट लिये।

    राहुल ने 24 गेंदों पर छह चौके और तीन छक्कों की मदद से 51 रन जबकि इशान ने 46 गेंदों पर 70 रन की पारी खेली जिसमें सात चौके और तीन छक्के शामिल हैं। इन दोनों ने पहले विकेट के लिये 50 गेंदों पर 82 रन जोड़े। आखिर में ऋषभ पंत (14 गेंदों पर नाबाद 29) और हार्दिक पंड्या (10 गेंदों पर नाबाद 16) ने टीम का स्कोर 19 ओवर में तीन विकेट पर 192 रन पर पहुंचाया। कप्तान विराट कोहली ने टॉस के समय ही स्पष्ट कर दिया था कि मुख्य मैचों में रोहित शर्मा और राहुल पारी की शुरुआत करेंगे और वह तीसरे नंबर पर बल्लेबाजी के लिये आएंगे।

    रोहित को इस मैच में विश्राम दिया गया और उनकी जगह इशान ने पारी का आगाज किया जिन्होंने अपना दावा मजबूती से पेश किया। राहुल और इशान ने पहले तीन ओवरों में परिस्थितियां भांपने के बाद आक्रामक तेवर अपनाये। क्रिस वोक्स ने पारी के तीसरे ओवर में इशान का कैच छोड़ा। वोक्स अगला ओवर करने आये तो राहुल ने उन पर तीन चौके और एक छक्का जड़कर 18 रन बटोरे। इशान ने मार्क वुड के अगले ओवर में दो चौके और एक छक्का लगाया।

    राहुल ने क्रिस जोर्डन और मोईन का स्वागत छक्के से किया। उन्होंने वुड की गेंद एक्स्ट्रा कवर पर चार रन के लिये भेजकर अर्धशतक पूरा किया लेकिन अगली गेंद भी कवर के ऊपर से मारने के प्रयास में उन्होंने कैच दे दिया। इशान ने अपनी फॉर्म और ‘क्लीन हिटिंग’ जारी रखी। उन्होंने पारी के 12वें ओवर में आदिल राशिद पर दो छक्के और दो चौके लगाकर इंग्लैंड की बीच के ओवरों की रणनीति गड़बड़ा दी। इनमें से दूसरे छक्के से इशान ने अर्धशतक पूरा किया।

    कोहली 13 गेंदों पर 11 रन बनाकर कामचलाऊ स्पिनर लियाम लिविंगस्टोन की टर्न लेती गेंद पर बैकवर्ड प्वाइंट पर आसान कैच दे बैठे। इस तरह से इयोन मोर्गन की जगह कप्तानी कर रहे जोस बटलर का सात गेंदबाज आजमाने का इंग्लैंड को कुछ फायदा मिला। पंत ने मोईन पर लगातार दो छक्के जड़कर शुरुआत की।

    इशान के इसके बाद लगातार दो कैच छूटे लेकिन उन्होंने अन्य बल्लेबाजों को अभ्यास का मौका देने के लिये स्वयं ही क्रीज छोड़ दी। उनकी जगह उतरे सूर्यकुमार यादव हालांकि आठ रन बनाकर पवेलियन लौट गये। हार्दिक पंड्या ने गेंदबाजी नहीं की लेकिन वह बल्लेबाजी के लिये उतरे। भारत को आखिरी दो ओवरों में 20 रन की जरूरत थी। हार्दिक ने जोर्डन पर तीन चौके लगाकर दबाव हटाया। पंत ने इसी ओवर की आखिरी गेंद पर ‘फ्री हिट’ पर विजयी छक्का लगाया।

    इससे पहले कोहली ने ओस की स्थिति को भांपने के लिये टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण का फैसला किया, क्योंकि भारत जब 24 अक्टूबर को जब पाकिस्तान के खिलाफ अपने अभियान की शुरुआत करेगा तो इसी आधार पर अपना गेंदबाजी संयोजन तय करेगा। भारत की तरफ से भुवनेश्वर कुमार और जसप्रीत बुमराह ने नयी गेंद संभाली जबकि शमी पहले बदलाव के तौर पर आये। भुवनेश्वर ने लय हासिल करने पर ध्यान दिया तो बुमराह और शमी ने बल्लेबाजों पर दबाव बनाने की रणनीति अपनायी।

    तीनों तेज गेंदबाजों में हालांकि बुमराह (26 रन देकर एक) ही किफायती साबित हुए जबकि शमी ने विकेट निकालने की अपनी काबिलियत का नमूना पेश किया। उन्होंने जोस बटलर (18), जैसन रॉय (17) और लिविंस्टोन (30) को अच्छी शुरुआत का फायदा नहीं उठाने दिया। बुमराह ने बेयरस्टॉ को अर्धशतक पूरा नहीं करने दिया लेकिन भुवनेश्वर आखिर तक लय नहीं पकड़ पाये।

    उन्होंने चार ओवर में 54 रन लुटाये। मोईन ने उनकी अंतिम तीन गेंदों पर चौका और फिर दो छक्के लगाये और आईपीएल की अपनी फॉर्म बरकरार रखी। मुख्य मैचों में स्पिन विभाग की जिम्मेदारी रविंद्र जडेजा और वरुण चक्रवर्ती को मिलना तय है और ऐसे में तीसरे स्पिनर के लिये रविचंद्रन अश्विन और राहुल चाहर के बीच मुकाबला है।

    अनुभवी अश्विन ने बीच के ओवरों में बल्लेबाजों पर अंकुश लगाने का अच्छा प्रयास किया। चाहर ने डाविड मलान (18) को बोल्ड किया लेकिन चार ओवर में 43 रन पर दिये। लिविंगस्टोन ने उनके एक ओवर में 17 रन लिये थे। भारत अपना अगला अभ्यास मैच बुधवार को आस्ट्रेलिया से खेलेगा जबकि इंग्लैंड का सामना न्यूजीलैंड से होगा। आस्ट्रेलिया ने सोमवार को एक अन्य अभ्यास मैच में न्यूजीलैंड को तीन विकेट से हराया। न्यूजीलैंड ने सात विकेट पर 158 रन बनाये। आस्ट्रेलिया ने 19.5 ओवर में सात विकेट खोकर लक्ष्य हासिल किया। (एजेंसी)