steve-smith-captaincy-shane-warne-vs-mark-waugh-australia-vs-india

‘बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी’ टेस्ट में 4 मैचों की सीरीज़ के दूसरे मैच में भी ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज और पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ (Steve Smith) मैदान में संघर्ष करते नज़र आए। मेलबर्न (Melbourne Second Test Match India-Australia) में खेल जा रहे दूसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में बिना खाता खोले आर. अश्विन की गेंद पर आउट हुए थे।

 दूसरी पारी में उनसे उम्मीद की जा रही थी कि वह इस पारी में बेहतरीन डिफेंसिव खेल दिखाते हुए टीम की बल्लेबाजी की ताक़तवर कड़ी बनकर सामने आएंगे और अपने नाम बड़ा स्कोर भी जोड़ेंगे। लेकिन, मैच की दूसरी पारी में भी स्टीव स्मिथ भारतीय गेंदबाज़ी से जूझते नज़र आ रहे थे और क्रीज़ पर जमने के स्ट्रगल में सिर्फ 8 रन के निजी स्कोर पर क्लीन बोल्ड हो गए ।

स्टीव स्मिथ भारतीय घातक तेज़ गेंदबाज़ जसप्रीत बुमराह का शिकार हुए। दूसरे टेस्ट के दोनों पारियों में केवल 8 रन का स्कोर बनाने के बाद ऑस्ट्रेलिया के दिग्गज बल्लेबाज़ माने जाने वाले इस क्रिकेटर के नाम एक शर्मनाक रिकॉर्ड भी दर्ज हो गया है।

अपनी ही ज़मीन पर यानी ऑस्ट्रेलिया के ही मैदान पर टेस्ट सीरीज में स्टीव स्मिथ के करियर का यह सबसे ख़राब प्रदर्शन है। पहली बार स्टीव स्मिथ भारत के खिलाफ टेस्ट मैच में शून्य के स्कोर पर आउट हुए हैं। इससे पहले 2013 में स्मिथ बिना खाता खोले यानी ज़ीरो स्कोर पर आउट हुए थे। स्टीव स्मिथ की करियर की बात की जाए तो ये सामने आता है कि स्टीव अब तक 5 बार ज़ीरो स्कोर पर आउट हुए। अब एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में कुल 8 रन बनाये जाने से स्टीव स्मिथ के नाम एक और बेहद खराब रिकॉर्ड दर्ज हो गया है।

पहली बार ऐसा हुआ है कि स्टीव अपने ही देश के मैदान में इतने ख़राब स्कोर पर आउट हुए हैं । इससे पहले कभी भी वो ऑस्ट्रेलिया में खेले मैचों में एक टेस्ट मैच में इतने कम स्कोर पर आउट नहीं हुए। ऑस्ट्रेलिया में स्टीव स्मिथ का एक टेस्ट मैच करियर में यह न्यूनतम स्कोर है।

स्टीव स्मिथ के टेस्ट करियर की बात की जाए तो एक मैच में उनका यह दूसरा न्यूनतम स्कोर है। 2013 में उन्होंने लॉर्ड्स (Lords)  के इंग्लैंंड के खिलाफ सिर्फ़ 3 रन बनाए थे। इसके अलावा 2 और मैचों कि अलग अलग यानी दोनों पारियों में बनाए गए न्यूनतम स्कोर 6-5, 5-7 हैं। ये शर्मनाक स्कोर भी 2015 में इंग्लैंड और 2017-18 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैच के हैं। ताज़ा सीरीज़ (Border-Gavaskar Trophy Test Series) की बात की जाए तो दोनों ही टेस्ट में (एडिलेड और मेलबर्न टेस्ट) में स्टीव स्मिथ का बल्ला नहीं गरमाया, उनका बल्ला खामोश रहा।

एडिलेड (Adelaide Test) में खेले गए इस ताज़ा सीरीज़ के पहले मैच में स्टीव स्मिथ (Steve Smith) ने पहली पारी में 1 रन बनाए और दूसरी पारी में 1 रन बनाकर नॉट आउट थे। ऐसे में ताज़ा सीरीज़ के 2 टेस्ट मैचों की 4 पारियों में स्टीव स्मिथ ने सिर्फ 10 रन बनाए हैं। गौर करने वाली बात तो ये भी है कि ऑस्ट्रेलिया के इस धाकड़ बल्लेबाज़ के बल्ले से आखिर बार जो शतक लगा था वो अभी से 14 पारी पहले लगा था।