Ashwin and Sunil Gavaskar

    -विनय कुमार

    यूएई और ओमान (UAE OMAN) में 17 अकटूबर से खेले जाने वाले ICC T20 WORLD CUP TOURNAMENT, 2021के लिए BCCI ने टीम इंडिया की 15 सदस्यीय टीम की घोषणा कर दी है। बीते बुधवार की देर शाम को घोषित की गई भारत की इस टीम की घोषणा ने क्रिकेटप्रेमियों के साथ क्रिकेट के पंडितों को हैरान कर दिया। T20 वर्ल्ड कप के लिए चुनी गई टीम इंडिया में जो नाम सबसे ज्यादा चौंकाने वाला रहा, वो था भारत के मौजूदा सबसे अनुभवी और घातक ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin off-spinner Team India) की लिमिटेड ओवर फॉर्मेट में वापसी का, जो बीते करीब 4 सालों से इस फॉर्मेट में भारत के लिए एक भी मैच नहीं खेले हैं।

    भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने ‘ICC T20 WORLD CUP, 2021’ की चुनी गई टीम और टीम में रविचंद्रन अश्विन की वापसी को लेकर जबरदस्त कटाक्ष किया है और खरी-खरी कही है। उन्होंने इस टीम में अश्विन के चयन को हताशा भरा बताया है। सुनील गावस्कर के मुताबिक, रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) का चयन सिर्फ दिल को तसल्ली (consolation prize) देने के लिए किया गया है।

    इसलिए वर्ल्ड कप टीम में दी गई जगह

    गौरतलब है कि रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) इस समय टीम इंडिया के साथ इंग्लैंड के साथ 5 मैचों के टेस्ट सीरीज के दौरे पर हैं, जहां अब तक खेले गए 4 मैचों में अश्विन को एक भी मैच की प्लेइंग इलेवन (playing eleven) में शामिल नहीं किया गया। दुनिया के सबसे महान क्रिकेटरों में गिने जाने वाले सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) का मानना है कि ‘ICC T20 WORLD CUP, 2021’ की टीम में रविचंद्रन अश्विन का चयन सिर्फ इसलिए किया गया है, ताकि इंग्लैंड दौरे पर (India on England Tour 2021) किसी भी मैच में जगह न देने के कारण भरपाई की जा सके। 

    लेकिन, अब देखना ये है कि उन्हें T20 World Cup की प्लेइंग इलेवन में भी जगह दी जाएगी या आपसी मनमुटाव और ईगो के कारण कप्तान कोहली वहां भी रविचंद्रन अश्विन को अपमान का घूंट पीते हुए देखना चाहेंगे। क्योंकि, ऐसे ही आरोप कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli Captain Indian Cricket Team) पर लग रहे हैं।

    ‘स्पोर्टस तक’ से अपनी खास बातचीत में उन्होंने कहा, “भारतीय टीम में अश्विन (Ravichandran Ashwin) की वापसी एक अच्छा फैसला है। हालांकि ‘प्लेइंग इलेवन’ (playing eleven) में जगह मिलती है या नहीं, यह देखने वाली बात होगी। वे (Ravichanran Ashwin) इंग्लैंड दौरे में भी टीम में शामिल तो किए गए हैं, लेकिन उन्हें अब तक एक भी मैच में मौका नहीं मिला। हो सकता है कि टेस्ट सीरीज में (IND vs ENG Test Series in England, 2021) उन्हें मौका न दे पाने की हताशा खत्म करने के लिए अश्विन को यह दिल रखने वाला इनाम (consolation prize) दिया गया है।”

    अश्विन के लिए अंधेरे की सुरंग का अंधेरा छंटा

    गौरतलब है कि रविचंद्रन अश्विन ने अपना आखिरी T20 अंतरराष्ट्रीय मैच 9 जुलाई 2017 को वेस्ट इंडीज (IND vs WI T20I, 2017) के खिलाफ खेला था। और, उनका आखिरी वनडे इंटरनेशनल मैच भी वेस्ट इंडीज के उसी दौरे में 30 जून 2017 को खेला था। उसक बाद से अब तक लिमिटेड ओवर फॉर्मेट (ODI T20 cricket) की भारतीय टीम में वे जगह हासिल कर पाने में असफल हो रहे थे। लेकिन, दूसरी तरफ रविचंद्रन अश्विन ने IPL 2021 में खेले गए मैचों में शानदार प्रदर्शन किया और ब्लू जर्सी (Team India) में वापसी की उम्मीद को जगाए रखा। अब करीब 4 साल बाद उन्हें इस फॉर्मेट की टीम इंडिया में जगह मिली है।

    वर्ल्ड कप के लिए टीम इंडिया के चयन के बाद अश्विन ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी और ट्वीट कर कहा, “मैं अपने घर की दीवार पर इस संदेश को लिखने से पहले अपनी जेहन में लाखों बार अंकित किया। ऐसे कथन पढ़ने में जितने अच्छे लगते हैं, लेकिन इससे हमें कई गुना ताकत तब मिलती है, जब हम इसे अपनी ज़िंदगी में उतारते हैं, पालन करते हैं। इस वक्त मेरे पास दो ही शब्द हैं – खुशी और शुक्रगुजार।”

    धोनी की उपस्थिति से टीम इंडिया को लाभ

    गौरतलब है कि रविचंद्रन अश्विन ने अपने ट्वीट में जिस ‘Quote’ की फ़ोटो शेयर की है, उसमें लिखा है, “हर लंबी सुरंग के अंत में रोशनी रोशनी होती है। लेकिन, उस सुरंग में फंसे वही लोग इस रोशनी को देख पाते हैं, जिन्हें उस रोशनी के होने पर यकीन होता है।”

    गौरतलब है कि ‘ICC T20 WORLD CUP, 2021’ की टीम की घोषणा के साथ BCCI ने एक और अच्छी खबर दी, जिसने करोड़ों प्रशंसकों का दिल जीत लिया। इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले चुके टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी (MS Dhoni) को BCCI ने वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम का मेंटॉर (Mentor T20 World Cup Team India) नियुक्त किया है, जो कप्तान विराट कोहली (Virat Kohli Captain Indian Cricket Team), हेड कोच रवि शास्त्री (Ravi Shastri Coach) और सपोर्टिंग स्टाफ के साथ टीम की जीत की रणनीति तैयार करने में बड़ी भूमिका अदा करेंगे। सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) ने इस पर कहा कि धोनी की कप्तानी में भारत ने 3 खिताब (ICC T20 WORLD CUP 2007, ICC ODI WORLD CUP 2011 और CHAMPION TROPHY 2013) अपने नाम किए हैं। ऐसे में ड्रेसिंग रूम में उनकी मौजूदगी से भारत को (टीम इंडिया के खिलाड़ियों को) काफी फायदा मिल सकता है।