indian team
File Photo

    -विनय कुमार

    भारतीय क्रिकेट टीम में इस समय एक से एक खिलाड़ी हैं। टीम इंडिया के पूर्व कोच रवि शास्त्री के कार्यकाल में इतने युवा खिलाड़ियों को मौका मिला कि अब BCCI दो टीमें एक ही समय पर मैदानों में उतार सकती हैं। वहीं जो, खराब फाॅर्म से गुजर रहे हैं, उनका करियर खतरे में ज़रूर नजर आ रहा है। लेकिन, नए युवा प्रतिभाओं का आना भी जारी है। न्यूजीलैंड के खिलाफ (India vs New Zealand T20 Series, 2021) 3 मैचों की T20 सीरीज में वेंकटेश अय्यर, आवेश खान (Aawesh Khan) जैसे नए सितारे डेब्यू करने जा रहे हैं। वहीं कुछ ऐसे भारतीय सीनियर खिलाड़ी भी हैं, जिन्होंने अपने करियर में जमकर क्रिकेट खेला, लेकिन अभी तक रिटायरमेंट नहीं लिया है। आइए जानें काैन हैं वो 2 नामचीन खिलाड़ी :

    हरभजन सिंह (Harbhajan Singh)

    अपनी स्पिन गेंदों से दुनिया के कई धाकड़ बल्लेबाजों के छक्के छुड़ाने वाले हरभजन सिंह टीम इंडिया से काफी लंबे समय से पूरी तरह से बाहर हैं। लेकिन, इसके बावजूद उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से रिटायरमेंट की घोषणा अभी तक नहीं की है। गौरतलब है कि हरभजन सिंह बीते 5 सालों से भारतीय टीम के लिए कोई मैच नहीं खेल पाए हैं। लेकिन, हो सकता है उनको इस बात की संभावना लग रही हो कि वो IPL T20 TOURNAMENT के जरिए कभी वापसी कर पाएंगे। हालांकि IPL में भी उनका प्रदर्शन पहले की तरह घातक नहीं रहा। IPL 2021 में हरभजन सिंह कोलकाता नाइट  राइडर्स (KKR) के लिए खेले थे। उन्हें 3 मैचों में माैका दिया गया था, लेकिन वे एक भी विकेट नहीं चटका सके। हरभजन सिंह के साथी खिलाड़ी युवराज सिंह (Yuvraj Singh) संन्यास ले चुके हैं। उनके साथ खेल चुके गाैतम गंभीर (Gautam Gambhir), जहीर खान (Zaheer Khan), इरफान पठान, वीरेंद्र सहवाग (Virendra Sehwag) और सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) जैसे दिग्गज खिलाड़ी भी संन्यास ले चुके हैं। लेकिन हरभजन सिंह ने अभी तक रिटायरमेंट को लेकर कोई फैसला नहीं किया है।

    रिकी पोंटिंग (Ricky Ponting) हों या एंड्रयू सायमंड्स (Andrew Symonds) या फिर क्रिस गेल (Chris Gayle) हों, सभी दिग्गज उनकी गेंदों के सामने घुटने टेकते नज़र आए। हरभजन सिंह (Harbhajan Singh) ने अपने अंतरराष्ट्रीय करियर में कई उपलब्धियां हासिल की। उन्होंने अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में 103 मुकाबले खेले, जिसमें 417 विकेट हासिल किए। इस दरम्यान उन्होंने 25 बार 5 विकेट हॉल, और पांच बार टेन विकेट हॉल ले चुके हैं।

    क्रिकेट का इतिहास बताता है कि हरभजन सिंह टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले तीसरे भारतीय गेंदबाज हैं। वहीं उनके ODI करियर की बात की जाए, तो 236 मैच खेले हैं, जिसमें 269 विकेट झटके हैं। उन्होंने 3 बार 5 या इससे ज्यादा विकेट लिए। T20I में खेले 28 मैचों में उन्होंने 25 विकेट चटकाए हैं। 41 साल के Harbhajan Singh ने मार्च 1998 में अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में कदम रखा था। वहीं उनका अंतिम मैच 3 मार्च 2016 को खेला गया T20 मैच था। इसके बाद हरभजन सिंह कभी भारतीय टीम में लौट नहीं पाये।

    दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik)

    2 साल से ज्यादा हो गया, टीम इंडिया के  विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) भी भारतीय टीम से पूरी तरह से बाहर ही हैं। इस समय जिस तरह से युवा प्रतिभाएं आ रही हैं, इससे लगता नहीं है कि अब कार्तिक को भारत की टीम में मौका मिलेगा। 36 साल के दिनेश कार्तिक का करियर बहुत ज्यादा नहीं चला। उन्होंने 2004 में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में डेब्यू किया था, लेकिन वे तीनों फाॅर्मेट के कुल मिलाकर 152 मैच ही खेल सके। उन्होंने अपने करियर में 26 टेस्ट, 94 वनडे तो 31 T20I मैच खेले हैं। दिनेश कार्तिक ने टीम इंडिया की तरफ से अपना अंतिम मैच जुलाई 2019 में खेला था जो वनडे इंटरनेशनल था। यह मैच ICC ODI WORLD CUP,  2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गया सेमीफाइनल मैच था। इस मुकाबले में भारत को हार का सामना करना पड़ा था।

    Dinesh Karthik's career got a break? Will commentary in historical match

    विकेटकीपर कार्तिक ने टेस्ट क्रिकेट में 1 सेंचुरी और 7 हाफ सेंचुरी की मदद से 25 की औसत के साथ 1025 रन बनाए हैं। वहीं 79 ODI पारियों में 30.21 की औसत से 1752 रन बनाए, जिसमें 9 हाफ सेंचुरी शामिल रही। दिनेश कार्तिक ODI में शतक लगाने में भी विफल रहे। उन्होंने अपने अब तक के करियर में भारत की तरफ से खेलते हुए T20I की 26 पारियों में 399 रन बनाए हैं। गौरतलब है कि, कार्तिक अभी भी IPL में सक्रिय हैं। वह KKR के लिए खेल रहे हैं। IPL 2021 में उन्होंने 5वें नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 17 मैचों में 223 रन बनाए। इस सीजन में अपनी टीम को फाइनल तक पहुंचाने में बड़ी भूमिका निभाई थी।  शायद कार्तिक को लगता है कि IPL के जरिए वो फिर से टीम इंडिया ।इन जा सकते हैं। लेकिन, हकीकत ये है कि केएल राहुल, रिषभ पंत और ईशान किशन जैसे विकेटकीपर बल्लेबाज इस वक्त टीम में हैं, जिससे कार्तिक की एक बार फिर से टीम इंडिया में वापसी मुश्किल ही है।

    कर रहे हैं दूसरा काम

    गौरतलब है कि हरभजन सिंह और दिनेश कार्तिक नया काम ढूंढ चुके हैं। और उस नए काम में भी बढ़िया परफाॅर्म कर रहे हैं। कमेंट्री की फील्ड में नाम कमा रहे हैं। दोनों दिग्गज खिलाड़ी अब कमेंट्री बाॅक्स में नजर आते हैं।