century-of-centuries-on-this-day-in-2012-sachin-tendulkar-scored-his-100th-ton-in-international-cricket
File Photo

    -विनय कुमार

    क्रिकेट की दुनिया के मास्टर ब्लास्टर और टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने आज ही के दिन 1989 में अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में अपनी पहली हाफ सेंचुरी ठोकी थी। तेंडुलकर ने जब यह कीर्तिमान हासिल किया उस दौरान उनकी उम्र सिर्फ 16 साल और 214 दिन थी। गौरतलब है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के इतिहास में सचिन (Sachin Tendulkar) सबसे कम उम्र में टेस्ट अर्धशतक लगाने वाले खिलाड़ी बने थे।

    फिलहाल यह कीर्तिमान भारतीय महिला खिलाड़ी शेफाली वर्मा (Shafali Verma) के नाम दाखिल है।  उन्होंने वेस्ट इंडीज (West Indies vs India Women’s Cricket) के खिलाफ ग्रॉस आइलेट में खेलते हुए सिर्फ 15 साल और 285 दिन में हाफ सेंचुरी ठोकी थी।  इस कीर्तिमान को हासिल करते ही उन्होंने करीब 30 सालों तक सचिन तेंदुलकर के नाम रहे इस रिकॉर्ड को अपने नाम दर्ज़ कर लिया।

    गौरतलब है कि क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले भारत के महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने अपनी पहली अर्धशतकीय पारी भारत पड़ोसी देश पाकिस्तान (Pakistan) के खिलाफ ठोकी थी। फैसलाबाद के मैदान में टीम इंडिया की तरफ से चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए उन्होंने 59 रनों की बेहतरीन पारी खेली थी।

    इस पारी में इस  उन्होंने 172 गेंदों का सामना करते हुए 4 शानदार चौके भी लगाए थे। हालांकि, उस ऐतिहासिक मुकाबले की दूसरी पारी में उनके बल्ले से कुछ खास नहीं हो पाया। दूसरी पारी में उन्होंने 16 गेंदों का सामना करते हुए 1 चौके की मदद से 8 रन बनाकर रन आउट हो गए थे।

    आपको याद दिला दें कि वह मुकाबला दोनों टीमों के बीच ड्रा रहा था। वहीं पूरे मैच के दौरान बेहतरीन बल्लेबाजी के लिए मिडल ऑर्डर के अनुभवी बल्लेबाज संजय मांजरेकर (Sanjay Manjrekar) को ‘मैन ऑफ द मैच’ (Man of The Match) से नवाजा गया था। उन्होंने इस मैच की दोनों पारियों में बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए अर्धशतक लगाए थे। पहली पारी में 76 और दूसरी पारी 83 रनों की शानदार पारी खेली थी मांजरेकर ने।

    अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का इतिहास बताता है कि मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने अपने करियर में 200 टेस्ट मैच में मैदान में उतरे। जिसकी 329 पारियों में 53.8 की औसत से उन्होंने कुल 15921 रन बनाए। इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय एकदिवसीय मैचों में (ODI Sachin Tendulkar) 463 मैचों में उन्होंने हिस्सा लिया, और इस में से इतनी 452 पारियों की बल्लेबाजी में 44.8 की औसत से उन्होंने 18426 रन बनाए। और, एक T20I मैच की एक पारी में 10.0 की औसत से सिर्फ 10 रन बनाए हैं। बैटिंग के साथ-साथ उन्होंने बोलिंग में भी अपना योगदान दिया है। मास्टर ब्लास्टर ने अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में 46, वनडे इंटरनेशनल मैचों में 154 और T20I क्रिकेट में 1 विकेट हासिल किए हैं। यानी, ऑल राउंडर की भूमिका में भी नज़र आ चुके हैं।