ऐसा लगता है कि विराट कोहली ने फिर खुद को निखार लिया, जानें डेविस हसी ने ऐसा क्यों कहा

Loading

मुंबई: ऑस्ट्रेलिया के पूर्व क्रिकेटर डेविड हसी का मानना है कि विराट कोहली ‘फिर से निखर’ गए हैं। उन्होंने इस भारतीय बल्लेबाज के स्ट्राइक रेट पर बहस के बीच इस चैंपियन खिलाड़ी को नजरअंदाज करने के खिलाफ चेतावनी दी। आईपीएल के मौजूदा सत्र में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू (आरसीबी) के लिए सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में सबसे आगे होने के बावजूद कोहली को पिछले मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ पर्याप्त आक्रामकता के साथ बल्लेबाजी नहीं करने के लिए कुछ आलोचना का सामना करना पड़ा।

कोहली अभी राजस्थान रॉयल्स के रियान पराग के साथ संयुक्त रूप से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं जिन्होंने तीन मैच में 141.4 के स्ट्राइक रेट से दो अर्द्धशतक के साथ 181 रन बनाए हैं। टी20 विश्व कप नजदीक होने के कारण टीम में कोहली की जगह भी चर्चा का विषय बनी हुई है। उन्होंने पिछले टूर्नामेंट में मेलबर्न में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ भारत के लिए सबसे यादगार पारियों में से एक खेली थी।

हसी से जब पूछा गया कि कोहली के स्ट्राइक रेट को लेकर चल रही बहस पर उनका क्या कहना है तो उन्होंने कहा, ‘‘विराट कोहली सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं, क्या वह इस समय आईपीएल में नहीं हैं?” उन्होंने कहा, ‘‘वह काफी अच्छे खिलाड़ी हैं। मुझे नहीं लगता कि उन्हें काफी ज्यादा परेशानियां होंगी। अगर आप इस आईपीएल में स्ट्राइक रेट देखें तो ऐसा लगता है कि वह अपने खेल को एक नए स्तर पर ले गए हैं, उनमें फिर से निखार आया है।

हसी ने क्रिकेट विक्टोरिया और खेलोमोर के बीच साझेदारी के तौर पर मेलबर्न क्रिकेट अकादमी के लॉन्च की घोषणा के मौके पर कहा, ‘‘आप चैंपियंस को कभी भी खारिज नहीं करते। जैसे आप स्टीव स्मिथ को कभी खारिज नहीं करते। आप रिकी पोंटिंग, सचिन तेंदुलकर, रोहित शर्मा जैसे खिलाड़ियों को कभी चुका हुआ नहीं मान सकते।” हसी ने कहा, ‘‘आप उन्हें कभी खारिज नहीं करते और मुझे यकीन है कि विराट कोहली अगले विश्व कप में जा रहे हैं और पिछले एक दशक में अधिकांश समय की तरह एक बार फिर दबदबा बनाएंगे। अपने चैंपियनों को कभी चुका हुआ नहीं मानें।”

(एजेंसी)