टोक्यो ओलंपिक में होगा भारत-पाकिस्तान का आमना-सामना, जेवलिन थ्रो में भिड़ेंगे नीरज चोपड़ा और अरशद नदीम

    नई दिल्ली: टोक्यो ओलंपिक 2020 (Tokyo Olympics 2020) में सात अगस्त भारत के लिया बहुत महत्वपूर्ण दिन साबित हो सकता है। इस दिन भारत और पाकिस्तान (Ind vs Pak In Tokyo Olympics 2020) आमने-सामने होंगे। यह दिन दोनों देशों के लिए खास दिन होगा। यह जंग भारत के नीरज चोपड़ा (Neeraj Chopra) और पाकिस्तान के अरशद नदीम (Arshad Nadeem) ने बीच होनी है। भारत के नीरज आज यानी बुधवार को बड़ी आसानी से फाइनल में जगह बनाने में कामयाब रहे। उन्होंने शानदार आगाज करते हुए अपने पहले ही प्रयास में बेहतरीन थ्रो किया और फाइनल में एंट्री कर ली। 

    नीरज चोपड़ा ने पहले ही प्रयास में 86.65 मीटर का थ्रो फेंका था। वह एशियाई खेलों के पदक भी हासिल कर चुके हैं। वहीं पाकिस्तान के नदीम ने भी फाइनल के लिए क्वालीफाई किया है। नदीम ने 85.16 की थ्रो फेंककर फाइनल का टिकट कटाया है। नदीम ने अपने पहले प्रयास में 78.50 का थ्रो फेंका था। भाला फेंक में ग्रुप ए और ग्रुप बी से शीर्ष 12 खिलाड़ी फाइनल में अपनी जगह बनाई है। 

    सात अगस्त को होगा महामुकाबला

    भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाला जेवलिन थ्रो का यह खेल 7 अगस्त को होगा। जिस पर पूरे देश की नज़रें होंगी। नीरज चोपड़ा और अरशद नदीम का यह मैच दो देशों की उम्मीदों का मैच होगा। भारत को नीरज से गोल्ड की उम्मीद है। कुछ इसी तरह की उम्मीदें पाकिस्तान को भी है। अब सात अगस्त को ही पता चलेगा कि कौन से देश की उम्मीद पूरी हुई और कौन से देश की आस टूट गई। नीरज के लिए यह एक बड़ी चुनौती भी साबित हो सकती है।  

    नीरज को आदर्श मानते हैं नदीम 

    पाकिस्तान के अरशद नदीम पहले पाकिस्तान के लिए क्रिकेट खेला करते थे, लेकिन उन्होंने इस खेल को छोड़कर एथलेटिक्स का रुख किया। उन्होंने 2018 एशियाई खेलों में कांस्य पदक भी हासिल किया। इस पदक को जीतने के बाद नदीम ने कहा था कि उन्होंने नीरज को देखकर ही भाला फेंक खेलने का फैसला किया था। वह उनके लिए प्रेरणा हैं। ऐसे में भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाला यह मुकाबला बेहद रोचक और अनोखा साबित हो सकता है। क्योंकि इस मुकाबले में नदीम अपने आदर्श नीरज के सामने होंगे।