Mohammed Shami came on target on India's defeat to Pakistan in T20 World Cup, Virender Sehwag, Asaduddin Owaisi came in his support
File

    नई दिल्ली: भारत-पाकिस्तान (India-Pakistan) टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup 2021) में भारत की हुई हार के बाद से टीम इंडिया (Team India) के प्लेयर्स (Players) को सोशल मीडिया (Social Media) पर टारगेट किए जा रहे हैं। सोशल मीडिया पर टीम इंडिया के बॉलर मोहम्मद शमी (Mohammad Shami) के खिलाफ जमकर बयानबाज़ी की जा रही है। सिर्फ शमी ही नहीं कुछ लोग मैच के बाद से ही टीम इंडिया के खिलाड़ियों पर व्यक्तिगत टिप्पणियां कर रहे हैं। इस बीच मोहम्मद शमी के पक्ष में टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग और एआईएमआईएम चीफ असदुद्दीन ओवैसी आये हैं। 

    एएनआई ने ओवैसी के हवाले से कहा है कि, कल के मैच को लेकर सोशल मीडिया पर मोहम्मद शमी को निशाना बनाया जा रहा है, जिसमें मुसलमानों के खिलाफ कट्टरता, नफरत दिखाई जा रही है। क्रिकेट में आप जीतते हैं या हारते हैं। टीम में 11 खिलाड़ी होते हैं लेकिन सिर्फ एक मुस्लिम खिलाड़ी को निशाना बनाया जा रहा है। क्या बीजेपी सरकार इसकी निंदा करेगी? 

    वहीं टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने सोमवार को भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का समर्थन किया जिन्हें विश्व कप इतिहास में पाकिस्तान के खिलाफ देश की क्रिकेट टीम की पहली हार के बाद आनलाइन निशाना बनाया गया। सहवाग ने ट्वीट किया, ‘‘मोहम्मद शमी को आनलाइन निशाना बनाया जाना स्तब्ध करने वाला है और हम उसके साथ हैं। वह चैंपियन है और जो भी भारत की कैप पहनता है उसके दिल में भारत किसी भी आनलाइन उपद्रवी से अधिक होता है। आपके साथ हूं शमी। अगले मैच में दिखा दो जलवा।”

    बता दें कि, भारत को रविवार को टी20 विश्व कप के अपने पहले मुकाबले में 10 विकेट से शिकस्त झेलनी पड़ी। इस दौरान शमी भारत के सबसे महंगे गेंदबाज साबित हुए और उन्होंने 3.5 ओवर में 43 रन लुटाए। शमी हाल के समय में भारत के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजों में से एक रहे हैं और पिछले पांच साल में उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया है। सोशल मीडिया पर ट्रोल करने वालों ने रविवार के रात के उनके प्रदर्शन को उनके धर्म से जोड़ा जो लोगों को अच्छा नहीं लगा।