File Photo
File Photo

    नई दिल्ली: भारत की दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु (PV Sindhu) भले ही गोल्ड मेडल (Gold Medal) को हासिल नहीं कर पाईं, लेकिन उन्होंने भारत को टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympics 2020) में निराश नहीं होने दिया। उन्होंने महाकुंभ कहे जाने वाले खेल में खुद के नाम ब्रॉन्ज मेडल (Bronze Medal) को आखिरकार कर ही लिया है। सिंधु ने दोनों सेटों में चीन की शटलर ही बिंग जिओ (He Bing Jiao) को 21-13 और दूसरा सेट 21-15 से हराकर भारत की शान को बढ़ा दिया है। 

    सिंधु के कांस्य पदक जीतते ही भारत टोक्यो ओलंपिक में दो पदकों का मालिक हो गया है। पहला सिल्वर मेडल वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने हासिल किया है। वहीं अब दूसरा ब्रॉन्ज मेडल अब पीवी सिंधु ने अपने नाम कर लिया है।

    बता दें कि पीवी सिंधु से भारत को गोल्ड मेडल की उम्मीद थी, लेकिन पीवी सिंधु (PV Sindhu) को ताई जू यिंग (Tai Tzu-ying) से बीते शनिवार को करारी हार मिली है। सेमीफाइनल के इस मैच में पीवी सिंधु ताइवानी खिलाड़ी ताई से 2-0 से हार गई थीं। हालांकि सिंधु ने अब कांस्य पदक जीतकर भारत को गर्व महसूस करवाया है। इस मेडल को जीतते ही सिंधु भारत की इकलौती ऐसी महिला खिलाड़ी बन गई हैं जिनके नाम ओलंपिक में दो व्यक्तिगत मेडल हैं।