नक्सली हमले में एक पुलिस अधिकारी और एक जवान शहीद, ३ घायल

गड़चिरोली. भामरागड़ तहसील के कोठी पुलिस मदद केंद्र अंतर्गत पोयरकोटी-कोपर्शी जंगल परिसर में रविवार को सुबह 6 से 6.30 बजे के दौरान पुलिस व नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में क्युआरटी दल के पुलिस उपनिरीक्षक समेत एक सी-60 जवान शहीद हुआ है. वहीं 3 पुलिस जवान घायल हुए हैं. शहीद पुलिस उपनिरीक्षक का नाम सोलापुर जिले के निवासी धनाजी होनमाने व जवान का नाम भामरागड़ तहसील के आरेवाड़ा निवासी किशोर आत्राम है. मुठभेड़ में घायल हुए जवानों के नाम भामरागड़ तहसील के लाहेरी निवासी गोंगलू ओक्सा, पेनगुंडा निवासी राजू पुसाली व पिटेकसा निवासी दसरू कुरसामी है.

4 से 5 नक्सली मारे गए
तहसील के कोपर्शी जंगल परिसर में रविवार को सुबह 6 बजे के दौरान सी-60 दल व शीघ्र कृति दल संयुक्त रूप से नक्सलविरोधी अभियान चला रहे थे. इस दौरान जंगल में घात लगाकर बैठे नक्सलियों ने पुलिस जवानों पर अंधाधुंद गोलीबारी की. जिसके जवाब में पुलिस जवानों ने भी फायरिंग की. नक्सलियों द्वारा किए गए गोलीबारी में क्युआरटी के पुलिस उपनिरीक्षक धनाजी व पुलिस जवान आत्राम शहीद हुए. मुठभेड़ में 4 से 5 नक्सली मारे जाने की संभावना पुलिस विभाग ने व्यक्त की है. शहीद जवानों का पार्थिव रविवार दोपहर 2 बजे के दौरान हेलीकाप्टर की सहायता से गड़चिरोली लाया गया. वहीं घायल जवानों को भी हेलीकाप्टर से गड़चिरोली लाया गया. घायलों का जिला अस्पताल में उपचार करने के बाद नागपुर रेफर किया गया है.

PSI होनमाने को DGP पुरस्कार
1 मई महाराष्ट्र दिवस पर राज्य सरकार ने जिले के 116 पुलिस अधिकारी व कर्मियों को पुलिस महासंचालक पदक से सम्मानित किया गया था. इनमें शहीद पीएसआई धनाजी होनमाने का भी समावेश था. नक्शलविरोधी कार्रवाईयों में पीएसआई होनमाने ने उल्लेखनीय कार्य किया था. भामरागड़ के क्युआरटी दल के प्रमुख थे.

फिर से जिले में सक्रिय
जारावंडी पुलिस मदद केंद्र अंतर्गत सीनभट्टी जंगल परिसर में 2 मई को हुई मुठभेड़ में पुलिस ने डीवीसी मेंबर सृजनक्का को ढ़ेर किया था. जिससे नक्सली बौखलाएं थे. नक्सलियों ने इस घटना के विरोध में 20 मई को गड़चिरोली जिला बंद का आह्वान किया था. नक्सलियों ने जंगल परिसर में अभियान पर तैनात पुलिस जवानों को निशाना बनाया. इस घटना में पीएसआई समेत एक जवान शहीद हुआ. जिससे नक्सलियों ने सृजनक्का के मौत का बदला लेने की बात कहा है. इस घटना से नक्सली फिर से जिले में सक्रिय होते दिखाई दे रहे हैं.