Railway minister doing politics on the issue of running trains for migrants: Baghel

नई दिल्ली. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रविवार को रेल मंत्री पीयूष गोयल पर प्रवासियों के लिए ट्रेन चलाने के मुद्दे पर राजनीति करने का आरोप लगाया और उनसे कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से राज्यों के साथ मिलकर लड़ने की अपील की। गोयल ने पश्चिम बंगाल, राजस्थान, छत्तीसगढ़ और झारखंड जैसे राज्यों से और ट्रेनों को मंजूरी देने की अपील की थी।

बघेल ने कहा, ‘‘पीयूष गोयल जी ने पहले कहा कि छत्तीसगढ़ ट्रेनों के लिए मंजूरी नहीं दे रहा है। हमने उन्हें जवाब दिया कि राज्य ने सभी मंजूरियां दे दी हैं। ट्रेनों को चलाने के लिए छत्तीसगढ़ की ओर से कोई मंजूरी लंबित नहीं है। उन्होंने अभी तक जवाब नहीं दिया है।” मुख्यमंत्री ने कहा कि रेल मंत्री अब राज्य द्वारा ट्रेनों को मंजूरी न दिए जाने के मुद्दे को चुनौती दे रहे हैं। गोयल ने बघेल को यह साबित करने के लिए कथित तौर पर चुनौती दी थी कि केंद्र ने प्रवासियों को भेजने वाले और उनके गंतव्य राज्यों से अनुरोध मिलने के बाद ट्रेनों के लिए मंजूरी नहीं दी है।

बघेल ने रायपुर से फोन पर ‘पीटीआई-भाषा’ को कहा, ‘‘गोयल जी से मेरा अनुरोध है कि यह राजनीति करने या चुनौतियां देने का वक्त नहीं है। यह कोरोना वायरस वैश्विक महामारी से मिलकर लड़ने का वक्त है। यह प्रवासी मजदूरों की मदद करने का वक्त है।” मुख्यमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ ने ट्रेनों को चलाने के लिए जम्मू कश्मीर, उत्तर प्रदेश और कर्नाटक समेत अन्य राज्यों से भी मंजूरी मांगी है जो अब तक नहीं मिली है।

दरअसल ट्रेनों को चलाने के लिए प्रवासियों को भेजने वाले तथा उनके गंतव्य राज्यों को मंजूरी देने की जरूरत होती है। बघेल ने कहा, ‘‘अब हम क्या करें? और आप हमें चुनौतियां दे रहे हैं।” उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अन्य राज्यों में काम कर रहे प्रवासी मजदूरों को छत्तीसगढ़ लाने के लिए 1.16 करोड़ रुपये दिए हैं।(एजेंसी)