CRIME

    पिंपरी. गुंडों (Goons) की नकेल कसने में जुटे पिंपरी चिंचवड़ पुलिस (Pimpri Chinchwad Police) के एंटी गुंडा स्क्वाड ने चार अलग अलग कार्रवाइयों में मकोका (MCOCA) की कार्रवाई में फरार रहे बदमाश समेत चार शातिर बदमाशों पर शिकंजा कसा है। इन कार्रवाइयों में कुल्हाड़ी, पिस्तौल, तलवार जैसे घातक हथियार बरामद किए जाने की जानकारी स्क्वाड के सहायक पुलिस निरीक्षक (Assistant Police Inspector) हरीश माने (Harish Mane) ने दी है। 

    पहली कार्रवाई में एंटी गुंडा स्क्वाड की टीम ने गुप्त जानकारी के आधार पर ओंकार विजय मोकाशी (25) और प्रथम उर्फ पँडी संदीप तावरे (19) को कस्पटेवस्ती, वाकड से गिरफ्तार किया। उनके पास से 80,800 रुपये कीमत की देशी पिस्टल, कुल्हाडी, एक्टीवा मोपेड जब्त की गई। दोनों को गिरफ्तार कर वाकड पुलिस के हवाले किया गया। कोर्ट ने उन्हें 4 दिन की पुलिस कस्टडी में भेज दिया है। ओंकार मोकाशी के विरुद्ध उत्तमनगर पुलिस स्टेशन में दो संगीन अपराध के मामले दर्ज है।

    दूसरी कार्रवाई में मकोका (महाराष्ट्र संगठित अपराध प्रतिबंध कानून) के तहत कार्रवाई के बाद से फरार चल रहे ओंकार उर्फ अण्णा बालू हजारे (21) को अष्टापुर से हिरासत में लिया गया। भोसरी एमआयडीसी पुलिस के हवाले किया। हजारे के विरुद्ध चिंचवड, भोसरी एमआयडीसी पुलिस थाने में विभिन्न संगीन धाराओं में पहले से कई मामले दर्ज है। तीसरी कार्रवाई में एंटी गुंडा स्क्वाड के शुभम कदम को मिली जानकारी के आधार पर विकी अनिल घोलप (24) नामक एक तड़ीपार आरोपी को गिरफ्तार किया गया। वह हाथ में तलवार लेकर इलाके में दहशत फैलाते देखा गया। तलवार समेत उसे गिरफ्तार कर चिंचवड पुलिस को सौंपा गया। घोलप के विरुद्ध चिंचवड, वाकड, कामशेत में विभिन्न मामलों में अपराध दर्ज है।

    चौथी कार्रवाई में मुखबिर से मिली जानकारी के आधार पर आशुतोष उर्फ सोन्या संतोष वराडे (21) को गिरफ्तार किया गया गया। वराडे के विरुद्ध जलगांव चोपडा पुलिस स्टेशन में विभिन्न संगीन अपराधों में मामला दर्ज है। वह पिंपरी चिंचवड शहर पुलिस के रिकॉर्ड पर भी दर्ज शातिर बदमाश है। उसे डुडूलगांव, आलंदी परिसर से गिरफ्तार कर जलगांव चोपडा पुलिस थाने के हवाले किया गया है। आरोपी के विरुद्ध चिंचवड और चोपडा पुलिस स्टेशन में गंभीर अपराध के कई मामले दर्ज है। यह कार्रवाई पुलिस आयुक्त कृष्ण प्रकाश, अपर पुलिस आयुक्त डॉ.संजय शिंदे, उपायुक्त (अपराध-प्रशासन) सुधीर हिरेमठ, सहायक आयुक्त प्रशांत अमृतकर के मार्गदर्शन में सहायक पुलिस निरिक्षक हरीश माने, हजरत पठाण, प्रविण तापकीर, विजय तेलेवार, गणेश मेदगे, रामदास मोहिते, शुभम कदम, ज्ञानेश्वरी गिरी की टीम ने की।