(प्रतीकात्मक तस्वीर)
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

    कांकेर: छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले के एक लॉज में ठहरे रायपुर निवासी एक व्यक्ति और उसकी पत्नी ने अपने दो बच्चों को जहर देकर मारने के बाद कथित रूप से फंदे से लटककर आत्महत्या कर ली। पुलिस के एक अधिकारी ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। कांकेर जिले के पुलिस अधीक्षक शलभ सिन्हा ने बताया कि शहर के बस स्टैंड के निकट स्थित बस्तर लॉज के एक कमरे से बृहस्पतिवार की रात रायपुर निवासी जितेंद्र देवांगन (38), सविता देवांगन (35) और उनके दो बच्चे गुनगुन और टुकटुक का शव बरामद किया गया। बच्चों की उम्र 10 वर्ष से कम है।

    पुलिस अधिकारी ने बताया कि प्राप्त सूचना के अनुसार देवांगन परिवार बुधवार शाम से कांकेर के बस्तर लॉज में रुका था। बृहस्पतिवार शाम तक जब लॉज के कमरे से परिवार का कोई सदस्य बाहर नहीं निकला तब लॉज के प्रबंधन ने इसकी सूचना पुलिस को दी।

    सिन्हा ने बताया कि सूचना मिलने के बाद घटनास्थल के लिए पुलिस दल को रवाना किया गया। पुलिस ने जब कमरे के भीतर प्रवेश किया तब उन्होंने दंपति का शव पंखे से फंदे से लटका हुआ तथा बच्चों का शव बिस्तर पर पड़ा हुआ पाया तथा उनके मुंह झाग निकल रहा था।

    सिन्हा ने बताया, ‘‘पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। आशंका है कि पति-पत्नी ने जहर देकर बच्चों की हत्या करने के बाद फंदे से लटककर आत्महत्या कर ली।” उन्होंने बताया, ‘‘दंपति के हाथ पीछे से बंधे हुए थे। ऐसा प्रतीत होता है कि दोनों ने एक दूसरे का हाथ बांधने का प्रयास किया था।” अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद इस संबंध में सही जानकारी मिल सकेगी। पुलिस अधीक्षक ने बताया कि कमरे से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है। पुलिस लॉज के सीसीटीवी फुटेज की भी जांच कर रही है। मृतक के परिजनों को घटना की जानकारी दे दी गई है। (एजेंसी)