CM Bhupesh Baghel and nandkumar Baghel

    रायपुर. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Chhattisgarh Chief Minister Bhupesh Baghel) के पिता नंद कुमार बघेल (Nand Kumar Baghel) को रायपुर की निचली अदालत ने जमानत दे दी है। उन्हें कथित तौर पर ब्राह्मण समाज (Brahman Community) के खिलाफ विवादित बयान देने के मामले में गिरफ्तार किया गया था। अदालत ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत पर भेज दिया था। जिसके बाद से वह जेल में ही थे।

    10 हजार रुपए के मुचलके पर हुई जमानत

    नंद कुमार बघेल की जमानत याचिका अदालत ने मंजूर कर 10 हजार रुपए के मुचलके पर जमानत दी है। उनके वकील गजेंद्र सोनकर ने कहा कि, “एक निचली अदालत ने छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल को जमानत दी।

    मुख्यमंत्री के पिता ने उत्तर प्रदेश में ब्राह्मणों पर विवादित बयान दिया था। जिसके बाद उनके खिलाफ 4 सितंबर को पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई थी। वहीं उन्हें मंगलवार को आगरा से गिरफ्तार किया और रायपुर जिला न्यायालय में पेश किया था। जहां अदालत ने उन्हें 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया था।

    क्या था विवादित बयान?

    नंद कुमार बघेल ने ब्राह्मणों को विदेशी बताते हुए कहा था, “जिसका वोट, उसी की सरकार। जिस तरह अंग्रेज देश छोड़कर गए थे उसी तरह ब्राह्मण भी यहां से जाएंगे। या तो ब्राह्मण सुधर जाएं, या तो जाने के लिए तैयार रहें।”

    मुख्यमंत्री के पिता के उपरोक्त बयान से ब्राह्मण समाज भड़क गया था और रायपुर में डीडी नगर पुलिस थाने में शिकायत दर्ज की गई थी। जहां पुलिस ने उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा- 153ए (विभिन्न समूहों के बीच धर्म, जाति, जन्मस्थान, निवास और भाषा के आधार पर वैमनस्य पैदा करना) और धारा-505(1)(बी) – के तहत मामला दर्ज किया गया है।

    मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने दी सफाई

    पिता नंद कुमार बघेल के बयान को लेकर राज्य सरकार और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी विरोधियों के निशाने पर आ गये थे। जिसके बाद उन्हें सफाई देते हुए कहा था कि, सभी के लिए कानून एक सामान है।