प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

    नई दिल्ली: दिल्ली में प्रदुषण (Delhi Pollution) का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। जिससे दिल्लीवालों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। यही कारण है कि केंद्रीय प्रदुषण नियंत्रण बोर्ड ने लोगों को बाहर जाने से बचने की सलाह दी हुई है। साथ ही सरकारी और निजी दफ्तरों को गंभीर वायु प्रदुषण को देखते हुए वाहनों के इस्तेमाल को 30 फीसदी तक कम करने का आदेश दिया है। 

    ज्ञात हो कि दिल्ली में हर साल लोगों को इसी समस्या से गुजरना पड़ता है। आज सुबह हवा का औसत  एक्यूआई 499 दर्ज किया गया है। इस लिहाज से यह कल से भी खराब है। दिल्ली ने 24 घंटे के भीतर का अवरेज वायु गुणवत्ता सूचकांक 471 शुक्रवार शाम में दर्ज हुआ था। इससे पहले गुरूवार को AQI 411 रिकॉर्ड की गई थी।

    उल्लेखनीय है कि राजधानी दिल्ली में आसपास के राज्यों में जलने वाली पराली और दिवाली के मद्देनजर हुई आतिशबजी से प्रदुषण का लेवल अधिक बढ़ गया है। यही कारण है कि शुक्रवार को एयर क्वालिटी 700 से अधिक रिपोर्ट की गई। हालांकि औसत यह आंकड़ा 360 रहा। राजधानी दिल्ली में प्रदुषण कितना बढ़ा हुआ है इसका अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि यहां कई इलाके रेड जोन बने हुए हैं।