CR Patil distanced himself from the race of Chief Minister, said- I am not a part of it

    अहमदाबाद: विजय रूपाणी (Vijay Rupani) के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद से गुजरात (Gujarat) की राजनीतिक में हलचल तेज हो गई है। नया मुख्यमंत्री कौन होगा इसको लेकर कई नेताओं के नामों की चर्चा शुरू है। जिसमें केंद्रीय मंत्री मनसुख मंडाविया, पुरुषोत्तम रुपाला, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल (CR Patil) का नाम शामिल है। वहीं लगाए जा रहे इन अटकलों पर पाटिल ने खुद को अलग कर लिया है। उन्होंने कहा कि, “वह इस रेस का हिस्सा नहीं हैं।”

    ज्ञात हो कि, शनिवार को अचानक रुपाणी ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। राजभवन जाकर उन्होंने राज्यपाल को अपना इस्तीफा सौंपा। इस दौरान उनके साथ केंद्रीय मंत्री भूपेंद्र यादव, पुरुषोत्तम रुपाला, मनसुख मंडाविया, उपमुख्यमंत्री नितिन पटेल सहित गुजरात सरकार के कई नेता और मंत्री मौजूद थे। 

    संगठन में करना है काम 

    इस्तीफा देने के बाद पत्रकारों से बात करते हुए रुपाणी ने कहा, “मुझे गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में सेवा करने का अवसर देने के लिए मैं भाजपा को धन्यवाद देना चाहता हूं। अपने कार्यकाल के दौरान, मुझे पीएम मोदी के नेतृत्व में राज्य के विकास में जोड़ने का अवसर मिला।”

    उन्होंने कहा, “मेरा मानना है कि ​अब गुजरात की विकास यात्रा प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में एक नए उत्साह और ऊर्जा के साथ नए नेतृत्व में आगे बढ़नी चाहिए। ये ध्यान रखकर मैंने गुजरात के मुख्यमंत्री पद के दायित्व से त्यागपत्र दिया है।”

    उन्होंने आगे कहा, “मुझे पार्टी के द्वारा अब जो भी​ ज़िम्मेदारी मिलेगी, मैं नई ऊर्जा के साथ प्रधानमंत्री के नेतृत्व और राष्ट्रीय अध्यक्ष के मार्गदर्शन में अवश्य काम करता रहूंगा।”

    जनता को गुमराह करने की कोशिश 

    रूपाणी के इस्तीफे को कांग्रेस ने जनता को गुमराह करने वाला बताया है। गुजरात कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष हार्दिक पटेल ने बयान जारी करते हुए कहा, “मुख्यमंत्री का इस्तीफ़ा गुजरात की जनता को गुमराह करने के लिए लिया गया फ़ैसला हैं। लेकिन असली परिवर्तन अगले वर्ष चुनावों के बाद आएगा, जब जनता भाजपा को सत्ता से उखाड़ फेकेंगी।