गुटखा वितरक पर आयकर छापे से 100 करोड़ रुपये की बेनामी आय का खुलासा

    नई दिल्ली: आयकर विभाग ने हाल में गुजरात के एक गुटखा वितरक के खिलाफ छापेमारी में 100 करोड़ रुपये से अधिक की बेनामी आय का पता लगाया है। केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड (CBDT) ने मंगलवार को यह जानकारी दी।

    अहमदाबाद में एक समूह के करीब 15 परिसरों में 16 नवंबर को छापेमारी की गई थी। आयकर विभाग ने अभियान के दौरान चार करोड़ रुपये मूल्य के 7.50 करोड़ रुपये के आभूषण जब्त किए। समूह के नाम का खुलासा नहीं किया गया है।  आयकर विभाग ने अभियान के दौरान कई करोड़ रुपये के आभूषण जब्त किए। बयान में कहा गया, ‘‘अब तक की गई कार्रवाई में 100 करोड़ रुपये से अधिक की बेनामी आय का पता चला है।”

    सीबीडीटी ने एक बयान में कहा, ‘‘इसमें से, समूह ने 30 करोड़ रुपये से अधिक की अघोषित आमदनी स्वीकार की है।” छापे के दौरान कर आयकर अधिकारियों ने ‘‘कई दस्तावेज और डिजिटल साक्ष्य” जुटाए हैं। बयान में कहा गया, ‘‘इन साक्ष्यों का प्रारंभिक विश्लेषण स्पष्ट रूप से विभिन्न कदाचारों जैसे कि बेनामी खरीद-बिकी और नकद में किए गए लेन-देन का तरीका अपनाकर कर योग्य आय की चोरी का संकेत देता है।”

    बयान में दावा किया गया, ‘‘जब्त की गई सामग्री के विश्लेषण से पता चलता है कि नकद बिक्री का कुछ हिस्सा बहीखातों में दर्ज नहीं किया गया है।” विभाग ने अचल संपत्तियों में अघोषित निवेश के सबूत भी जुटाए हैं।