MP CM Shivraj
ANI Photo

    भोपाल: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को कहा कि गाय के साथ-साथ उसका गोबर और मूत्र किसी व्यक्ति की अर्थव्यवस्था को मजबूत कर सकता है और देश को आर्थिक रूप से सक्षम बना सकता है।   

    मुख्यमंत्री चौहान ने ‘इंडियन वेटरनरी एसोसिएशन’ की ओर से आयोजित लेडी वैट्स (महिला पशु चिकित्सक) कॉन्क्लेव-शक्ति 2021 की शुरुआत करते हुए कहा, ‘‘ हम प्रदेश में पशु उत्पादों के बेहतर उपयोग के लिए अलख जगाने का निरंतर प्रयास कर रहे हैं। दूध के अतिरिक्त गाय-भैंसों का गोबर, गो-मूत्र आदि से भी कई वस्तुएँ निर्मित होती हैं। हम चाहें तो अपनी अर्थ-व्यवस्था को इन गतिविधियों से सुदृढ़ कर सकते हैं और देश को भी आर्थिक रूप से सम्पन्न बना सकते हैं।” 

     चौहान ने कहा, ‘‘मध्य प्रदेश में श्मशान घाटों में यह कोशिश हो रही है कि लकड़ी कम से कम जले। गोबर से बनाई गई गो-काष्ठ का उपयोग बढ़े। इससे गौ-शालाएँ भी आत्मनिर्भर हो रही हैं। गोबर खरीदकर खाद और अन्य वस्तुएँ बनाने की दिशा में भी कार्य जारी है।”   मुख्यमंत्री ने कहा कि छोटे किसानों और पशुपालकों के लिए गाय का पालन एक लाभदायक व्यवसाय कैसे बने, इस पर पशु चिकित्सकों और विशेषज्ञों को परिणामदायक कार्य करना चाहिए। 

     केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला ने कहा कि गुजरात के ग्रामीण इलाकों में बड़ी संख्या में महिलाएं गाय पालन से जुड़ी हैं। उन्होंने कहा कि इन क्षेत्रों में महिलाओं के जुड़ाव से डेयरी व्यवसाय को सफलता मिली है।