indore

इंदौर (मध्यप्रदेश). अयोध्या (Ayodhya) में राम जन्मभूमि पर मंदिर (Ram Mandir) के निर्माण को लेकर इंदौर (Indore) जिले के ग्रामीण क्षेत्र में निकाली गई वाहन रैली पर पथराव (Stone Pelting) और उपद्रव के मामले में 27 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। बीते मंगलवार के इस घटनाक्रम में कम से कम पांच लोग घायल हो गए थे।

Courtsey: Squint Neon 

क्या है पुलिस का कहना:

पुलिस अधीक्षक (पश्चिमी क्षेत्र) महेशचंद्र जैन ने बुधवार को यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि जिला मुख्यालय से करीब 50 किलोमीटर दूर चांदनखेड़ी गांव में वाहन रैली पर पथराव के मामले में 23 लोगों को बलवा करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने बताया कि चार अन्य व्यक्ति भारतीय दंड विधान की धारा 307 (हत्या का प्रयास) के तहत गिरफ्तार किए गए हैं।

Courtsey: Akshay Singh

पुलिस अधीक्षक ने बताया, “उपद्रव के दौरान दोनों पक्षों ने एक-दूसरे पर गोलीबारी का आरोप भी लगाया है। इस दौरान एक व्यक्ति के पैर में गोली लगी थी।” उन्होंने बताया कि पथराव और उपद्रव को लेकर दोनों पक्षों की शिकायत पर कुल चार आपराधिक प्रकरण दर्ज किए गए हैं। इनमें से दो मामलों में आरोपी अज्ञात हैं, जिनकी पहचान की जा रही है। अधिकारियों ने बताया कि करीब 1,400 की आबादी वाले चांदनखेड़ी गांव में वाहन रैली पर पथराव की सूचना मिलने पर वहां मंगलवार को ही भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया था।

क्या थी घटना: 

यह रैली अयोध्या में राम जन्मभूमि पर मंदिर के निर्माण को लेकर जनजागरण के लिए निकाली जा रही थी। उन्होंने बताया कि प्रशासन ने चांदनखेड़ी और इसके आस-पास के इलाकों में दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) की धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश लागू कर दिया है। आदेश के मुताबिक, इन इलाकों में पांच या इससे अधिक व्यक्तियों का समूह सक्षम दंडाधिकारी की अनुमति के बिना जमा नहीं हो सकेगा। 

 

Courtsey: Gulbarga Temperature