File Photo
File Photo

    भोपाल: कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के तीन शहरों इंदौर (Indore), भोपाल (Bhopal) एवं जबलपुर (Jabalpur) में रविवार को लॉकडाउन (Lockdown) है, जिससे चलते सड़कों पर सन्नाटा पसरा हुआ है। मध्य प्रदेश के गृह विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ. राजेश राजौरा के आदेश के अनुसार इन तीन शहरों में यह लॉकडाउन शनिवार रात 10 बजे से सोमवार सुबह 6 बजे तक लागू रहेगा। इस साल मध्य प्रदेश में यह पहला लॉकडाउन है। सप्ताह के बाकी दिनों में भोपाल एवं इंदौर में बुधवार से रात 10 बजे से सुबह छह बजे तक रात्रिकालीन कर्फ्यू भी लगाया गया है, जबकि आठ अन्य शहरों जबलपुर, ग्वालियर, उज्जैन, रतलाम, छिंदवाड़ा, बुरहानपुर, बैतूल एवं खरगोन में बुधवार रात्रि 10 बजे से सुबह छह बजे तक दुकानें एवं अन्य व्यवसायिक प्रतिष्ठान बंद किये गये हैं। यह आगामी आदेश तक जारी रहेगा।     

    लॉकडाउन के चलते भोपाल में दूध के बूथ, पेट्रोल पंप, किराने की दुकानें एवं सब्जी बाजार भी बंद रहे। वहीं, दवाइयों की दुकानें एवं अस्पताल खुले रहे। हालांकि, भोपाल सिटी लिंक लिमिटेड की कुछ बसों को मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षाओं में रविवार को शामिल होने वाले परीक्षार्थियों को भोपाल स्थित पांच केन्द्रों में आने-जाने के लिए संचालित किया जा रहा है।  भोपाल में 196 दिनों बाद पूरा लॉकडाउन लगाया गया है। 

    पिछले साल कोविड-19 के कारण लगे लॉकडाउन में पेट्रोल पंप, किराने की दुकानें, दूध के बूथ एवं सब्जी बाजार खुले रहे थे।   मध्य प्रदेश में शुक्रवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 1308 नए मामले सामने आए और इसके साथ ही प्रदेश में इस वायरस से अब तक संक्रमित पाए गए लोगों की कुल संख्या 2,74,405 पर पहुंच गयी, अब तक 3,903 लोगों की संक्रमण से मौत हो चुकी है। शनिवार को कोविड-19 के 317 नये मामले इंदौर में सामने आये, जबकि भोपाल में 345 एवं जबलपुर में 116 नये मामले सामले आये।