पीएम मोदी (Photo Credits-ANI Twitter)
पीएम मोदी (Photo Credits-ANI Twitter)

    नई दिल्ली: पीएम मोदी (PM Modi) ने आज मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में स्वामित्व योजना 9Svamitva Scheme) के लाभार्थियों के साथ बातचीत की  और योजना की जमीनी स्थिति की जानकारी ली। इस दौरान प्रधानमंत्री ने 19 जिलों के 3000 गांवों में 1,71,000 लाभार्थियों को ई-प्रॉपर्टी कार्ड भी वितरित किया। मोदी ने कहा कि स्वामित्व योजना से लोगों को बैंकों से लोन लेना और भी ज्यादा आसान होगा। 

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि स्वामित्व योजना से लोगों को बैंकों से लोन लेना और भी ज्यादा आसान होगा। ये अधिकार अभिलेख लाभार्थियों की समृद्धि का साधन बनेगा। ये लोग डिजीलॉकर के माध्यम से अपने फोन पर अपना प्रॉपर्टी कार्ड डाउनलोड कर सकते हैं। 

    मोदी ने कहा कि स्वामित्व योजना सिर्फ कानूनी दस्तावेज़ देने की योजनाभर नहीं है, बल्कि ये आधुनिक टेक्नॉलॉजी से देश के गांवों में विकास और विश्वास का नया मंत्र भी है। उन्होंने कहा कि इस कोरोना काल में भी देखा है कि कैसे भारत के गांवों ने मिलकर एक लक्ष्य पर काम किया, बहुत सतर्कता के साथ इस महामारी का मुकाबला किया। बाहर से आए लोगों के लिए रहने के अलग इंतजाम हो, भोजन और काम की व्यवस्था हो, वैक्सीनेशन से जुड़ा काम हो, भारत के गांव बहुत आगे रहे।

    PM ने कहा कि वो जमाना देश पीछे छोड़ आया है जब गरीब को एक-एक पैसे, एक-एक चीज के लिए सरकार के पास चक्कर लगाने पड़ते थे। अब गरीब के पास सरकार खुद चलकर आ रही है और गरीब को सशक्त कर रही है।

    मोदी ने कहा कि मुद्रा योजना में लोगों को अपना काम शुरू करने के लिए बैंकों से बिना गारंटी ऋण का अवसर दिया है। इस योजना के तहत पिछले 6 वर्षों में करीब 29 करोड़ ऋण दिए गए हैं, करीब 15 लाख करोड़ रुपये की ऋण राशि दी गई है।

    प्रधानमंत्री ने कहा कि ड्रोन टेक्नोलॉजी से किसानों को, मरीजों को, दूर-दराज के क्षेत्रों को ज़्यादा से ज़्यादा लाभ मिले इसके लिए हाल ही में अनेक नीतिगत निर्णय लिए गए हैं। ड्रोन बड़ी संख्या में भारत में ही बने, इसमें भी भारत आत्मनिर्भर हो, इसके लिए PLI स्कीम भी घोषित की गई है।