इंदौर में पातालपानी रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर किया जाएगा टंट्या मामा रेलवे स्टेशन

    भोपाल: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने सोमवार को कहा कि इंदौर में पातालपानी रेलवे स्टेशन का नाम बदलकर टंट्या मामा रेलवे स्टेशन (Tantya Mama railway station) किया जाएगा। बता दें कि इससे पहले हबीबगंज स्टेशन का नाम बदलकर कमलापति स्टेशन  कर दिया है। 

    मध्य प्रदेश मुख्यमंत्री कार्यालय के मुताबिक, इंदौर में 53 करोड़ की लागत से बन रहे बस स्टैंड और पातालपानी रेलवे स्टेशन का नाम टंट्या मामा के नाम पर रखा जाएगा। 

    ज्ञात हो कि, इससे पहले राज्य सरकार ने हबीबगंज स्टेशन का नाम बदलकर महान गोंड रानी कमलापति के नाम पर करने का प्रस्ताव केंद्रीय गृह मंत्रालय को भेजा था। जिस पर मंत्रालय की और से मंजूरी देते हुए रेलवे बोर्ड को बदलाव के लिए पत्र लिख दिया। बोर्ड ने हबीबगंज स्टेशन का नाम रानी कमलापति करने की अधिसूचना जारी कर दी थी। गौरतलब है कि 15 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा विश्व स्तरीय सुविधाओं वाले इस रानी कमलापति रेलवे स्टेशन का लोकार्पण किया गया। 

    क्यों पड़ा था हबीबगंज नाम 

    आपको बता दें कि हबीबगंज रेलवे स्टेशन ब्रिटिशकाल में बना था। वहीं वर्ष 1979 में जब स्टेशन का विस्तार हुआ तो नवाब खानदान के हबीबउल्ला ने अपनी जमीन दान में दी थी। उसके बाद उनके नाम पर ही स्टेशन का नाम हबीबगंज रखा गया था। हबीबउल्ला भोपाल के नवाब हमीदउल्ला के भतीजे थे।