2 close friends died in road accident
File Photo

    बड़वानी: मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के गंधावल गांव में एक स्कूल बस के कुचलने से दो वर्षीय बच्ची की मौत हो गई और इसका एहसास होने बाद इसका चालक बस को धीमी गति में चलती छोड़कर कूदकर भाग गया, जिस समय वह चलती बस से कूदकर भागा, उस वक्त इस बस में 12 स्कूली बच्चे भी बैठे हुए थे। पुलिस ने इसकी जानकारी दी     

    घटना के बाद पास में खड़ा युवक विकास तुरंत लुढ़क रही इस चालू बस में सवार हुआ और ब्रेक लगा कर बस को रोका, जिससे इसमें सवार 12 स्कूली बच्चों की जान बच गई।  यह घटना बड़वानी जिला मुख्यालय से करीब 55 किलोमीटर दूर गंधावल गांव में बुधवार शाम को उस वक्त हुई, जब यह बस पलसूद स्थित एक निजी स्कूल से बच्चों को वापस घर छोड़ने आई थी और मृतक बच्ची के भाई को उतार कर आगे बढ़ रही थी।   

    पाटी पुलिस थाना प्रभारी पिंकी सिसौदिया ने बताया कि मृतका की पहचान यशिका राठौर (दो वर्ष) के रूप में की गई है। सिसौदिया ने बताया कि बस चालक ने यशिका के भाई को घर के सामने उतारने के लिए बस रोकी और उसे उतार दिया। इसके बाद उसके पिता उसे लेकर घर जाने लगे। उन्होंने बताया कि इसी बीच, यशिका अपने पिता का पीछा करते हुए बस के आगे से गुजर रही थी, तभी चालक ने बिना आगे देखे बस को बढ़ा दिया और बच्ची उसकी चपेट में आ गई, जिससे उसकी मौत हो गई।   

    उन्होंने कहा कि तभी वहां मौजूद अन्य लोगों ने बस चालक को आवाज दी। हादसे की भनक लगते ही चालक बस को चलती छोड़कर कूदकर भाग गया। तभी पास में खड़े युवक विकास ने चालू बस में चढ़कर ब्रेक लगाकर बस को रोका और इसमें सवार 12 स्कूली बच्चों की जान बचाई।   

    सिसौदिया ने बताया कि परिजनों की सूचना पर मामला दर्ज कर लिया गया है और शव का पोस्टमॉर्टम करवाकर उसक परिजनों के सुपुर्द कर दिया है। उन्होंने कहा कि बस को जब्त कर लिया गया है।   सिसौदिया ने बताया कि बस चालक फरार है और उसके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।