Vikhe Patil

    अहमदनगर. भाजपा प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल (BJP State President Chandrakant Patil) द्वारा पूर्व मंत्री न कहने और दो-तीन दिन में सब समझ में आने का बयान देने के बाद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Chief Minister Uddhav Thackeray) ने भाजपा नेता रावसाहब दानवे को देखकर भावी सहयोगी बताने के बयान से राज्य के सियासी गलियारों में हड़कंप मचा हुआ है। उसी में अब भाजपा नेता और पूर्व मंत्री राधाकृष्ण विखे पाटिल (Radhakrishna Vikhe Patil) ने अहमदनगर (Ahmednagar) में यह कहकर सबको चौंका दिया है कि राजनीति में कोई भी जीवन भर का दुश्मन नहीं होता। न ही कोई हमेशा किसी का दोस्त होता है। राज्य में कोई भी चमत्कार हो सकता है।

    अहमदनगर के एक कॉलेज के विस्तारित भवन के उद्घाटन के बाद पत्रकारों से की गई बातचीत में विखे पाटिल ने कहा कि महाविकास अघाड़ी ने राज्य में खाई बना दी है। उसका कोई वैचारिक आधार नहीं है। ये लोग सत्ता के लिए एक साथ आए हैं। सत्ता में न होने के बावजूद भाजपा-शिवसेना 25- 30 साल से साथ काम कर रहे थे। इसलिए अगर भविष्य में ये दोनों पार्टियां साथ आती हैं तो इसका स्वागत किया जाना चाहिए। 

    सियासी गलियारों में कई अटकलें लगाई जा रही हैं

    मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने भाजपा के केंद्रीय मंत्रियों के साथ एक कार्यक्रम में ऐसा बयान दिया था। हालांकि इससे पहले भाजपा खुद इस तरह के बयान लगातार दे रही थी। इस बार ऐसा बयान खुद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की तरफ से आया जिसके बाद हर तरफ इसकी चर्चा शुरू हो गयी है। इस पर सियासी गलियारों में कई अटकलें लगाई जा रही हैं।