Strict lockdown in Kalyan rural area from 10 am to 7 am on May 15

    • शहर के मैदानों में खेलने लगे बच्चे
    • प्रशासन खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाए

    अकोला. पिछले करीब डेढ़ वर्ष से अधिक समय से सभी खेल के मैदान पूरी तरह से बंद थे. अब अनलाक में सभी मैदान खोल दिए गए हैं. कुछ दिनों पूर्व थोड़ी छूट दी गयी थी लेकिन कोरोना की दूसरी लहर के कारण फिर से मैदानों को बंद कर दिया गया था. लेकिन अब सभी मैदान खुल गए हैं. 

    सुबह के समय रहती है भीड़

    सुबह के समय शहर के अनेक मैदानों में बच्चों से लेकर बुजुर्गों तक सुबह की सैर के लिए निकते हैं. कुछ दिनों पूर्व तो सख्त लाकडाउन के कारण सुबह की सैर पर भी बंदी लगा दी गयी थी. अब सुबह के समय शहर के मैदानों में सुबह की सैर के साथ साथ बच्चे भी खेलने के लिए आने लगे हैं. इसी तरह वसंत देसाई स्टेडियम तथा लाल बहादुर शास्त्री स्टेडियम में बड़ी संख्या में खिलाड़ी भी प्रैक्टिस के लिए आ रहे हैं. विविध खेलों की प्रैक्टिस धीरे धीरे शुरू की जा रही है. 

    स्पर्धाओं की प्रतीक्षा

    अब खिलाड़ियों को क्रिकेट, फुटबॉल, हॉकी मैच के साथ साथ धनुर्विद्या, कबड्डी, वॉलिबॉल आदि विविध खेलों की स्पर्धाओं का इंतजार है. खिलाड़ी इंतजार कर रहे हैं कि कब वें विविध स्पर्धाओं में भाग लेते हैं. क्योंकि पिछले काफी लंबे समय से विविध खेलों के खिलाड़ी विविध खेलों की प्रैक्टिस नहीं कर सके हैं. इस समय शहर भर में खिलाड़ियों में काफी उत्साह देखा जा रहा है. बड़ी संख्या में खिलाड़ी रोज मैदानों में जमा हो रहे हैं. 

    प्रशासन खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाए-गुरूमीत सिंह गोसल

    इस बारे में महावितरण के सेवानिवृत्त अधिकारी तथा हॉकी खिलाड़ी गुरूमीत सिंह गोसल से बातचीत करने पर उन्होंने कहा कि अब अनलाक में खेल मैदान खोल दिए गए हैं. जिसके कारण खिलाड़ियों में काफी उत्साह दिखाई दे रहा है. उन्होंने कहा कि कुछ दिनों पूर्व सख्त लाकडाउन में सुबह की सैर और साइकलिंग पर भी रोक लगा दी गयी थी. जबकि साइकलिंग और सुबह की सैर पर रोक लगाना ठीक नहीं है.

    इससे तो शरीर मजबूत होता ही है और सुबह की ताजा हवा से स्वास्थ्य ठीक रहता है. हमारे प्रशासन ने तो सभी खेलों के खिलाड़ियों का उत्साह बढ़ाना चाहिए. गोसल ने कहा कि पिछले काफी लंबे समय से लाकडाउन के कारण सभी टीम गेम भी बंद थे. अब हमारे सभी खिलाड़ियों ने फिर से नये उत्साह के साथ प्रैक्टिस शुरू कर दी है. यह बहुत ही खुशी की बात है. आनेवाले समय में सभी के सहयोग से निश्चित ही कोरोना समाप्त होगा, ऐसी उम्मीद है.