Amit Shah
अमित शाह (फाइल फोटो)

Loading

नवभारत न्यूज़ नेटवर्क
अकोला: महाराष्ट्र में लोकसभा सीटों के बंटवारे और उम्मीदवारों को फाइनल करने के मकसद से केंद्रीय मंत्री अमित शाह मंगलवार को दो दिवसीय दौरे पर यहां पहुंचे हैं। उन्होंने मंगलवार को महाराष्ट्र बीजेपी नेताओं के साथ एक होटल में करीब डेढ़ घंटे तक विशेष मंथन किया। सूत्रों के मुताबिक केंद्रीय मंत्री ने साफ़ तौर से संकेत दिए हैं कि महाराष्ट्र में कई मौजूदा सांसदों के टिकट काटे जाएंगे। उनके इस तेवर को देख बीजेपी समेत महायुति की सहयोगी दल सीएम एकनाथ शिंदे की शिवसेना और डिप्टी सीएम अजित पवार की राकां नेताओं की धड़कने बढ़ गई है। इस बैठक में डिप्टी सीएम देवेन्द्र फडणवीस, प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले व राजस्व मंत्री राधाकृष्ण विखे पाटिल समेत अन्य नेता मौजूद रहे। 
अहम सीटों की समीक्षा
अमित शाह ने महाराष्ट्र बीजेपी नेताओं के साथ चंद्रपुर, बुलढाणा, अकोला, यवतमाल- वाशिम, वर्धा और अमरावती लोकसभा क्षेत्रों की समीक्षा की। बीजेपी नेताओं ने इन सभी लोकसभा सीटों को जीतने का टारगेट तय किया है। 
 
लोस चुनाव को लेकर ख़ास निर्देश
अमित शाह ने महाराष्ट्र में मिशन 45 और देश में अबकी बार 400 पार के लक्ष्य को हासिल करने के लिए अपने नेताओं को ख़ास निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में हर बूथ मजबूत रहना चाहिए। बीजेपी नेता चुनाव के दौरान महायुति उम्मीदवारों को भी जीताने के लिए काम करें। साथ ही केंद्र सरकार के काम को हर घर तक पहुंचाएं। 

यवतमाल-वाशिम से कटेगा भावना का टिकट
वर्तमान हालातों को देखते हुए यह तय माना जा रहा है कि यवतमाल-वाशिम लोकसभा सीट से शिंदे गुट की मौजूदा सांसद भावना गवली का टिकट कटेगा। उनकी जगह शिंदे गुट से कैबिनेट मंत्री संजय राठोड़ को उम्मीदवार बनाया जा सकता है। भले ही यह सीट शिंदे गुट के पास है। लेकिन उम्मीदवार कौन होगा। यह केंद्रीय मंत्री शाह की सहमति से तय होगा। 

8 मार्च को दूसरी लिस्ट
बीजेपी ने लोकसभा चुनाव के लिए अपनी पहली लिस्ट जारी कर दी है, इस लिस्ट में 195 उम्मीदवारों के नाम हैं। वहीं अब अगली लिस्ट 8 मार्च को जारी की जाएगी। पहली लिस्ट में महाराष्ट्र के एक भी उम्मीदवारों के नाम नहीं थे। यह साफ़ तौर से दिखाता है कि महाराष्ट्र में सीटों के बंटवारे को लेकर महायुति में पेंच फंसा हुआ है। अब इसी पेंच को सुलझाने के लिए अमित शाह सहयोगी दलों से बात करेंगे, ताकि 8 मार्च को जारी होने वाली दूसरी लिस्ट में महाराष्ट्र के उम्मीदवारों के नाम को भी शामिल किया जा सके। 

कौन कितनी सीटों पर चुनाव लड़ना चाहते हैं
बीजेपी 48 में से 32 सीटों पर चुनाव लड़ना चाहती है। जबकि उसकी सहयोगी शिवसेना (शिंदे गुट) 15 से 17 और राकां (अजित) ने भी 16 सीटों पर दावा ठोक दिया है। इसलिए मामला पेचीदा हो गया है। अब अमित शाह इस पूरे बंटवारे का तोड़ निकालेंगे।