पिस्तौल से गोली चलाकर गिट्टी, मुरुम के व्यवसायी गोपाल अग्रवाल की हत्या

  • कुछ संदिग्धों को हिरासत में लेकर 
  • पुलिस द्वारा सख्ती से पूछताछ जारी

अकोला. पिस्तौल से गोली चलाकर गिट्टी मुरुम के व्यवसायी गोपाल अग्रवाल की शनिवार की देर रात हत्या कर दी गयी. गोपाल अग्रवाल स्थानीय खोलेश्वर क्षेत्र के निवासी हैं. वे गिट्टी और मुरुम आदि का व्यवसाय करते थे. प्राप्त जानकारी के अनुसार बोरगांव मंजू क्षेत्र में उनकी खदान है. वे बोरगांव मंजू से करीब दो लाख रू. की राशि लेकर खदान से वापस लौट रहे थे. मोटर साईकिल पर अकोला लौटते समय पीछे से उन पर गोली चलाई गयी.

प्राप्त जानकारी के अनुसार जिन्होंने उन पर गोली चलाई वे भी दुपहिया वाहन पर सवार थे. एमआईडीसी में अप्पू पॉइंट से कुछ आगे यह घटना घटी. एक गोली उनकी छाती में तथा दूसरी चेहरे पर लगी. एक जीवित कारतूस घटना स्थल पर पाया गया. जब उन पर गोली चलाई गई वे अपने मोटरसाईकिल छोड़कर वहां से भागे लेकिन राष्ट्रीय महामार्ग क्र.6 पर सड़क के नवीनीकरण का कार्य शुरू है वहीं उन पर फिर गोली चलाई गई थी ऐसी जानकारी मिली है.

इसके अलावा भी उन पर हमला किया गया. कुछ लोग उन्हें अस्पताल ले गए. लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत होने की जानकारी मिली है. गोपाल अग्रवाल के पास जो दो लाख रू. की रकम थी वह रकम गायब होने की जानकारी मिली है. पुलिस को एक शक यह भी है कि शायद लूटमारी के उद्देश्य से भी हत्या की गयी हो. यह घटना घटने के बाद काफी समय तक पुलिस को भी इसकी जानकारी नहीं थी. पुलिस को घटना स्थल कहां है यह पता नहीं चल रहा था.

जानकारी मिलते ही जिला पुलिस अधीक्षक जी.श्रीधर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मोनिका राऊत, अपराध शाखा के पुलिस निरीक्षक शैलेश सपकाल, खदान थाने के थानेदार डी.सी. खंडेराव, ट्राफीक पुलिस निरीक्षक गजानन शेलके, एमआईडीसी के गवई तुरंत घटना स्थल पर पहुंचे. इसके बाद फॉरेन्सीक इन्वेस्टिगेशन वैन भी पहुंच गयी थी.

उस अनुसार घटना स्थल का पंचनामा पुलिस ने किया. सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार अकोला पुलिस द्वारा इस प्रकरण में सख्ती से जांच की जा रही है. प्राप्त जानकारी के अनुसार इस हत्याकांड को लेकर पुलिस ने तीन से चार लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की है. पुलिस का कहना है कि वह जल्दी ही इस गुत्थी को सुलझा लेगी.