उत्साह से मनाई गई भाई दूज, बहनों ने की भाई की लंबी आयु की कामना

    • भाई ने लिया बहनों की रक्षा का संकल्प

    अकोला. अकोला महानगर व जिले में सोमवार को उत्साह के साथ भाईदूज का त्यौहार मनाया गया. यह पर्व प्रति वर्ष कार्तिक शुक्ल पक्ष की द्वितीया तिथि को मनाया जाता है. इसे यम द्वितीया के नाम से भी जाना जाता है. इस दिन बहने व्रत, पूजा और कथा आदि कर अपने भाई की लंबी आयु और समृद्धि की कामना करती हैं.

    जिससे शहर में बहनों ने अपने भाइयों को तिलक लगाकर उनकी लंबी आयु की प्रार्थना भगवान से की और शुभकामनाएं दी. भाईदूज के लिए दूसरे गांव में रहनेवाले भाई अपनी बहन के घर पहुंचे. उसी तरह कई बहनें भी भाई के घर जाकर उन्हें तिलक लगाकर शुभकामनाएं दी. मान्यता है कि भाईदूज के दिन पूजा करने के साथ ही व्रत कथा सुनी और पढ़ी जाती है. भाईदूज के दिन मिठाई की दूकानों में ग्राहकों की भारी भीड़ देखी गई. आज के दिन नारियल की बिक्री अधिक मात्रा में हुई.

    बहन अपने भाई को नारियल व रूमाली देकर तिलक लगाती है व हाथ में मोली (रंगीन धागा) बांधती है. भाई भी बहन की रक्षा के लिए मन में संकल्प लेता है तथा बहन को तोहफा आदि भेंट स्वरुप देता है. अकोला शहर के जठारपेठ, रणपिसे नगर, अकोट फैल, रामदासपेठ, गौरक्षण रोड, डाबकी रोड, कौलखेड़ रोड, शहर के मध्यवर्ती भाग व पुराना शहर के भागों में सभी स्थानों पर भाईदूज का त्यौहार उत्साह के साथ मनाया गया.