Coronavirus

    • बच्चों का विशेष ध्यान रखें
    • विशेषज्ञ डाक्टरों की सलाह

    अकोला. फिलहाल कोरोना की दूसरी लहर पूरी तरह से समाप्ति की ओर देखी जा रही है. शनिवार को 124 लोगों की कोरोना की जांच की गयी जिसमें एक भी पाजिटिव रोगी नहीं पाया गया है. प्राप्त जानकारी के अनुसार अभी सिर्फ 9 एक्टिव पाजिटिव रोगी हैं जिन पर उपचार चल रहा है. इस तरह यह कहा जा सकता है कि कोरोना वायरस की दूसरी लहर अब धीरे धीरे समाप्ति की ओर है. उस पर हाल ही में दीपावली का त्यौहार मनाया गया है.

    इस त्यौहार को लेकर शहर तथा जिले के विभिन्न बाजारपेठ क्षेत्रों में भारी भीड़ देखी गयी है. इसी तरह कोरोना वायरस को लेकर जो सावधानी बरतनी चाहिए उसमें भी काफी कमी देखी जा रही है. इस बारे में यहां के वरिष्ठ महिला रोग विशेषज्ञ डा.दीपक वखारिया तथा वरिष्ठ बाल रोग विशेषज्ञ डा.अनूप कोठारी से बातचीत करने पर उन्होंने भी सावधानी बरतने की सलाह दी है. प्रस्तुत है उनसे की गयी बातचीत के अंश.

    सजग रहना जरूरी-डा.दीपक वखारिया

    कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर के विषय में बातचीत करने पर वरिष्ठ महिला रोग विशेषड डा.दीपक वखारिया का कहना है कि यह सही है कि दूसरी लहर समाप्ति की ओर देखी जा रही है. कोरोना के रोगी बहुत ही कम हो गए हैं लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि हम कोरोना की तीसरी संभावित लहर के लिए निश्चिंत हो जाएं, क्योंकि अभी भी खतरा पूरी तरह से टला नहीं है. कई देशों में कोरोना के रोगी बढ़ते हुए भी दिखाई दे रहे हैं. अब तो गर्भवती महिलाओं का भी वैक्सीनेशन शुरू हो गया है.

    इसलिए सबसे पहले सभी ने वैक्सीनेशन पूरा करना चाहिए. इसी तरह घर से बाहर निकलते समय मास्क लगाना सभी के लिए जरूरी है, हम लोगों को कोरोना के साथ जीना सीखना चाहिए, कहीं भी भीड़ का हिस्सा बनने से बचना चाहिए, तभी हम लोग संभावित तीसरी लहर का सामना करने के लिए तैयार हो सकते हैं. यदि हम लोग सख्ती से कोरोना वायरस को रोकने के लिए दी गयी सूचनाओं का पालन करेंगे तभी हम संभावित तीसरी लहर को टाल सकेंगे. 

    सभी लोग वैक्सीनेशन पूरा करें-डा.अनूप कोठारी

    इस बारे में वरिष्ठ बाल रोग विशेषज्ञ डा.अनूप कोठारी का कहना है कि प्रत्येक घर में सभी बड़ों ने वैक्सीनेशन पूरा करना चाहिए. अभी इन त्यौहारों में देखा जा रहा है कि 90 प्रश लोग मास्क का उपयोग नहीं कर रहे हैं. यह अच्छी बात नहीं है. कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर का सामना करने के लिए शत प्रतिशत लोगों ने मास्क लगाना चाहिए. इन त्यौहारों के मौसम में सभी लोगों का आपस में मिलना जुलना शुरू है. इसमें मास्क का उपयोग बहुत जरूरी है. अनेक देशों में कोरोना वायरस की तीसरी लहर देखी जा रही है, ऐसे देशों में भी देखी जा रही है जहां वैक्सीनेशन काफी हद तक हो चुका है.

    इसलिए अभी से हमें सावधान रहना बहुत जरूरी है. इसी तरह लोगों का काम है कि बच्चों का विशेष ध्यान रखें. इस समय डेंगू के भी काफी रोगी देखे जा रहे हैं, इसलिए सावधानी बरतना बहुत जरूरी है. जब तक आईसीएमआर डिकलेयर नहीं करता कि अब कोरोना की समाप्ति हो चुकी है तब तक सभी का काम है सावधान रहें. जहां तक हो सके बड़े कार्यक्रमों के आयोजन न करें, सोशल डिस्टेन्सिंग का पालन करें, मास्क लगाए, एक दूसरे से दो गज की दूरी रखें और पूरी तरह से सावधानी बरतें, तभी कुछ हो सकेगा.