बाटम-मौसम में परिवर्तन के कारण बीमारियां बढ़ीं

    • सर्दी, खांसी, बुखार के साथ साथ डेंगू के रोगी भी बढ़े

    अकोला. शहर तथा जिले में पिछले करीब तीन दिनों से बारिश शुरू है. इसी तरह मौसम में काफी परिवर्तन हुआ है. गर्मी तथा उमस की जगह अब मौसम धीरे धीरे सर्द होता जा रहा है. मौसम में परिवर्तन के कारण बीमारियां भी बढ़ने लगी हैं. शहर तथा जिले में सर्दी, खांसी, बुखार के साथ साथ डेंगू के रोगी भी देखे जा रहे हैं.

    प्राप्त जानकारी के अनुसार सर्वोपचार अस्पताल में डेंगू के पांच रोगी तथा मलेरिया के तीन और सर्दी, खांसी, बुखार के 30 रोगी उपचार करवा रहे हैं. इस तरह सर्दी, खांसी, बुखार के रोगी हर तरफ देखे जा रहे हैं. शहर के विविध क्षेत्रों में डेंगू के रोगी भी पाए जा रहे हैं. यह उल्लेखनीय है कि अधिकतर डेंगू के रोगी निजी अस्पतालों में उपचार करवा रहे हैं. निजी अस्पतालों में काफी रोगी भर्ती होने की जानकारी मिली है. डेंगू के कारण लोग काफी आतंकित देखे जा रहे हैं.

    कोरोना वायरस की दूसरी लहर जहां एक ओर पूरी तरह से समाप्ति की ओर है वहीं अब डेंगू के रोगी पाए जाने से लोग चिंतित दिखाई दे रहे हैं. डेंगू के रोगियों से अधिक डेंगू के समान रोगियों की संख्या अधिक दिखाई दे रही है. विशेष बात यह है कि सरकारी अस्पतालों के साथ साथ शहर तथा जिले के निजी अस्पतालों और दवाखानों में डेंगू तथा डेंगू के समान बीमारियों के रोगियों की संख्या बढ़ रही है.

    मच्छरों से बचेंघर में खुले में पानी भर कर न रखें-डा.सुभाष तिवारी

    इस बारे में शहर के वरिष्ठ फिजीशियन डा.सुभाष तिवारी से बातचीत करने पर उन्होंने कहा कि यह बात सही है कि इस समय डेंगू के रोगी पाए जा रहे हैं. इसलिए मच्छरों से बचें, घर में कहीं भी पानी भर कर न रखें, कूलर आदि में भी पानी भरा हो तो उसे खाली कर लें क्योंकि इसी तरह का पानी भरा होने से डेंगू के मच्छर पैदा होते हैं और लोगों को तकलीफ होती है.

    किसी को भी बुखार होने पर अपने डाक्टर से संपर्क करें और डाक्टर की सलाह पर जांच करवाएं. डा.तिवारी ने कहा कि अपने घर तथा आस पास के परिसर की साफ सफाई की ओर भी गंभीरता से ध्यान दें. जिससे मच्छरों से बचा जा सके. डेंगू यह बीमारी मच्छरों के काटने से होती है इसलिए ध्यान रहे कि मच्छर घरों में न बढ़ने पाएं.