Unseasonal Rain

Loading

अकोला/पातुर. जिले की पातुर तहसील में शुक्रवार को दोपहर बाद अचानक तेज हवाएं चलने लगीं और इस तेज चली आंधी के कारण कुछ लोगों के घरों के टीन उड़ गए और अनेक स्थानों पर पेड़ों की डालियां टूटने की भी जानकारी मिली है. इसी तरह कुछ क्षेत्रों में पेड़ों के गिरने की भी जानकारी प्राप्त हुई है. थोडे समय के लिए तो लोगों को ऐसा लग रहा था कि जैसे यह गर्मी का मौसम नहीं है बल्कि बारिश का मौसम शुरू है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार इस अचानक हुई तेज बारिश तथा तेज हवाओं के कारण आम की फसल का काफी नुकसान हुआ है. आगीखेड ग्राम के किसान विठ्ठल अत्तरकार की गाय पर पेड़ गिर जाने के कारण गाय की मौत हो गयी. इसी तरह तरबूज, खरबूज और प्याज की फसल का नुकसान होने की भी जानकारी मिल रही है. कुछ स्थानों पर सड़कों पर पेड़ गिर जाने के कारण आवागमन के लिए लोगों को काफी मशक्कत करनी पड़ी.

आगीखेड़ में भी तेज हवाओं के साथ बारिश के कारण नुकसान होने की जानकारी मिली है. पातुर में स्थित नानासाहब नगर इसी तरह आगीखेड़ ग्राम में इस तेज बारिश और तेज हवाओं के कारण अधिक नुकसान हुआ है. इस समय पातुर शहर में मौसम पूरी तरह से ठंडा हो गया है. सुबह से ही लग रहा था कि आज बारिश होगी, क्यों कि लगातार बादल छाए हुए थे और मौसम पूरी तरह से बदरीला था. 

अकोला में भी रहा बदरीला मौसम

यहां शहर में भी सुबह से बादल छाए हुए थे और मौसम बदरीला था. दोपहर 3.30 बजे के लगभग शहर के अनेक स्थानों पर हल्की बूंदा बांदी हुई और ठंडी हवाएं चलती रहीं. शाम के समय एक बार फिर सूर्य निकलने के कारण तापमान में थोड़ी कमी आई. लेकिन दिन भर यहां भी बदरीला मौसम ही रहा. 

अकोट, मुर्तिजापुर, बोरगांव मंजू में रहा बदरीला मौसम

जिले के अकोट, मुर्तिजापुर, बोरगांव मंजू और पारस, बालापुर, तेल्हारा, बार्शीटाकली में भी लगातार बदरीले मौसम की जानकारी मिली है. इसी तरह सभी जगह आज मौसम ठंडा रहा. सभी जगह ठंडी हवाएं चलती रहीं.