Farmer
File Photo

    अकोला. प्रधानमंत्री (पीएम) किसान सम्मान योजना के तहत जिले के 68 हजार 925 किसानों के खातों में मानदेय की नौवीं किस्त जमा कर दी गई है. प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के तहत किसानों को हर साल 6,000 रुपये दिए जाते हैं. सीमांत के साथ-साथ कम जमीन वाले किसानों के लिए वरदान प्रधान मंत्री किसान सम्मान निधि योजना को जिले में अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है.

    केंद्र सरकार द्वारा लागू की गई प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना के माध्यम से किसानों को हर साल 6,000 रुपये का लाभ दिया जाता है. पैसा सीधे किसानों के बैंक खातों में जमा किया जा रहा है और किसान तुरंत पैसे का उपयोग कर सकते हैं. केंद्र सरकार देश में अधिक से अधिक किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना का लाभ देने का प्रयास कर रही है.

    पीएम किसान योजना के फायदे

    यह योजना देश भर के 12 करोड़ से अधिक किसान परिवारों को फायदा पहुंचा चुकी है. इसमें उनकी जमीन की साइज पर ध्यान दिए बगैर मदद मिलती है. हर सालाना 6 हजार रुपये दिए जाते हैं. वहीं यह रकम सीधे किसानों के बैंक खाते में ट्रांसफर कर दिए जाते हैं. इस स्कीम की शुरुआत फरवरी 2019 में हुई थी.

    परिवार के सिर्फ एक सदस्य को मिलेगी रकम

    सरकार ने इस योजना के तहत परिवार को भी परिभाषित किया है, जिसमें पति, पत्नी और नाबालिग बच्चे आते हैं. राज्य सरकार और केंद्र शासित प्रदेश का प्रशासन किसान परिवारों को चिन्हित करेगा जिन्हें इस योजना की गाइडलाइन के तहत मदद मिल सकती है. पीएम किसान योजना के अंतर्गत परिवार के सिर्फ एक सदस्य को इसका फायदा मिल सकता है. गलत जानकारी देने पर लाभार्थी को दी गई रकम की रिकवरी भी की जा सकती है. 

    1.96 लाख किसानों को मिली पहली किस्त

    प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना की शुरुआत से अब तक जिले के 1 लाख 96 हजार लाभार्थी किसानों को योजना की पांचवी किस्त मिल चुकी है. साथ ही 2 लाख 18 हजार 607 लाभार्थियों को पहली किश्त मिल चुकी है. जिले के किसानों से इस योजना को मिल रहे प्रतिसाद के कारण लाभार्थियों की संख्या भी बढ़ रही है.