Traffic Jam pune

    • स्कूल बसों के साथ साथ  वाहन उपलब्ध कराने को तैयार

    अकोला. दीपावली के दिन एसटी कर्मियों की हड़ताल से यात्रियों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. यात्रियों को जो भी वाहन मिल सकता है, वे उससे यात्रा कर रहे हैं. इसके बाद सरकार ने उप-क्षेत्रीय परिवहन विभाग (आरटीओ) को यात्रियों की असुविधा से बचने के उपाय करने का निर्देश दिया है.

    तदनुसार, अकोला आरटीओ ने प्रत्येक बस डिपो के लिए एक संपर्क अधिकारी नियुक्त किया है. यह अधिकारी एसटी डिपो मैनेजर के संपर्क में रहेगा. डिपो प्रबंधक द्वारा अनुरोध किए जाने पर तुरंत बसें उपलब्ध कराई जाएंगी, यह जानकारी उप क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी जयश्री वसे-दुतोंडे ने दी है. ट्रेनों के शुरू न होने और रिजर्वेशन के बिना यात्रा की अनुमति न रहने से यात्रा एक बड़ी समस्या बन गई है.

    राज्य सरकार ने अस्थायी रूप से निजी और मालवाहक वाहनों को यात्रियों को ले जाने की अनुमति दी है क्योंकि हड़ताल खत्म होने के कोई संकेत नहीं हैं. हालांकि, यात्री परिवहन की जिम्मेदारी इस विभाग को सौंपी गई थी ताकि पुलिस और आरटीओ द्वारा निजी परिवहन को बाधित न किया जाए. इसके अनुसार अकोला आरटीओ ने जिले के सभी बस स्टैंडों के प्रबंधकों के साथ संपर्क करने के लिए यातायात निरीक्षकों को संपर्क अधिकारी नियुक्त किया है. आरटीओ अधिकारी बस प्रबंधक के संपर्क में रह सकते हैं और निजी बसें उपलब्ध करा सकते हैं. 

    आरटीओ अधिकारी की निजी बसों पर नजर 

    अकोला के दोनों बस स्टैंड और जिले के अन्य बस स्टैंड पर आरटीओ अधिकारी नजर रखे हुए हैं. वे यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि निजी बस चालक निजी बसों में सवार होने के बाद यात्रियों से अधिक किराया न लें. यात्रियों की भीड़ को देखते हुए कुछ निजी बसें भी उपलब्ध कराई जा रही हैं.

    स्कूल बसें उपलब्ध

    हम इस बात पर ध्यान दे रहे हैं कि यात्रियों को कोई परेशानी न हो. इसके लिए यातायात निरीक्षक डिपो प्रबंधक के संपर्क में हैं. डिपो प्रबंधक के अनुरोध करने पर उन्हें स्कूल बसें, माल वाहक वाहन आदि उपलब्ध करा सकते हैं. -जयश्री वसे-दुतोंडे, उप प्रादेशिक परिवहन अधिकारी