अकोट में स्थिति शांतिपूर्ण, अभी भी कर्फ्यू जारी

    • पुलिस का तगड़ा बंदोबस्त 
    • 47 आरोपी पुलिस हिरासत में लिए गए

    अकोला. जिले के अकोट शहर में त्रिपुरा की घटना को लेकर स्थिति तनावपूर्ण हो गयी थी. पहले पथराव की घटना घटी थी उसके बाद अकोट के भंगार बाजार में आग लगाने के कारण करीब 13 दूकानें जल गयी थी. इस कारण शहर में परिस्थिति तनावपूर्ण हो गयी थी. पुलिस ने तुरंत स्थिति पर काबू पा लिया है.

    अब वहां धीरे धीरे स्थिति सामान्य हो रही है लेकिन अभी भी शहर में कर्फ्यू जारी है. यह कर्फ्यू 17 नवंबर तक है लेकिन प्राप्त जानकारी के अनुसार यह कर्फ्यू दो दिन और बढ़ाया जाएगा ऐसी जानकारी मिली है. फिलहाल स्थिति पूरी तरह से पुलिस के नियंत्रण में है. किसी प्रकार की अप्रिय घटना का समाचार नहीं है. भंगार बाजार में आग की घटना के बाद से पुलिस अधीक्षक जी.श्रीधर अकोट में ही रुके हुए हैं और स्थिति पर पूरी तरह से नजर रख रहे हैं. 

    सिर्फ मेडिकल स्टोर्स शुरू

    अकोट शहर में कर्फ्यू लगाए जाने के कारण सभी प्रकार की वस्तुओं की दूकानें पूरी तरह से बंद हैं. लेकिन मेडिकल स्टोर्स को खुले रखने की छूट दी गयी है जिससे लोगों को समय पर दवाएं उपलब्ध हो सकें. सभी तरह की दूकानें बंद होने के कारण शहर पूरा सूना सूना सा लग रहा है. इसी तरह यहां पर इंटरनेट सेवा भी पूरी तरह से बंद है. इसी तरह पुलिस द्वारा सर्च आपरेशन लगातार शुरू है.

    स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में-पुलिस अधीक्षक जी.श्रीधर

    अकोट की स्थिति के विषय में बातचीत करने पर पुलिस अधीक्षक जी.श्रीधर ने बताया कि स्थिति पूरी तरह से नियंत्रण में है तथा शांतिपूर्ण है. पुलिस ने अब तक 47 आरोपियों को हिरासत में लिया है. पुलिस द्वारा सर्च आपरेशन अभी भी शुरू है. किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना नहीं है.

    एसआरपी की तीन कंपनियों के साथ साथ बुलढाना से आए पुलिस अधिकारी तथा कर्मचारी भी यहां तैनात किए गए हैं. पुलिस द्वारा लगातार गश्त जारी है. किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना न घटे इसके लिए पुलिस कर्मी लगातार अपना कार्य कर रहे हैं. बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि कर्फ्यू दो दिनों के लिए और बढ़ाया जा सकता है.