Demand to compensate the farmers affected by excessive rain

    अकोला. शहर के साथ जिले में पिछले कुछ दिनों से बारिश ना होने से जिले के प्रकल्प में पानी की आवक धीमी हो गई है. पिछले तीन दिनों में सभी प्रकल्प मिलाकर 2.85 दशलक्ष घनमीटर से वृध्दि हो गई है. तथा मोर्ना प्रकल्प में पिछले सप्ताह भर से वृध्दि हुई नहीं है. जिससे लोगों को अभी भी जोरदार बारिश की प्रतीक्षा है. 

    शहर के साथ जिले में पिछले पांच से सात दिनों से बदरीला मौसम था तथा पिछले दो दिनों से शहर में अच्छी धूप निकली है. शहर तथा जिले के कुछ भागों में बारिश ने दस्तक दी थी. लेकिन बारिश की दस्तक भी जोरदार नहीं थी. जिससे पिछले दो दिनों में जिले के जल प्रकल्प में पानी की वृध्दि नहीं हुई है.

    जिले के सबसे बड़े काटेपूर्णा प्रकल्प में दो दिनों में सर्वाधिक याने 2.25 दलघमी, वान प्रकल्प में 0.23 दलघमी और निर्गुणा प्रकल्प में 0.37 दलघमी पानी की वृध्दि हो गई है. इस दौरान मोर्ना प्रकल्प, दगड़पारवा प्रकल्प में पिछले पांच दिनों से पानी की वृध्दि नहीं हुई है. तथा उमा प्रकल्प में पिछले दो दिनों से कोई वृध्दि नहीं हुई है.

    जल प्रकल्प में जल भंडारण

    जिले के जल प्रकल्पों में जल भंडारण इस प्रकार है. काटेपूर्णा बांध में 79.85 प्रतिशत जल भंडारण हो गया है. वान बांध में 54. 80 प्रतिशत, निर्गुणा बांध में 74. 87 प्रतिशत, मोर्ना बांध में 53.74 प्रतिशत, उमा बांध में 25.26 प्रतिशत जल भंडारण हो गया है.