डेमू ट्रेन अकोट तक शुरू करें, दक्षिण मध्य रेल प्रबंधक को दिया निवेदन

    अकोट. दक्षिण मध्य रेलवे के अंतर्गत अकोला तक शुरू डेमू ट्रेन को जल्द से जल्द और अन्य ट्रेनों को भी अकोट तक शुरू किया जाए. ऐसी मांग का निवेदन सामाजिक कार्यकर्ता विजय जीतकर ने नांदेड मंडल के प्रबंधक को दिया है. 

    दक्षिण मध्य रेलवे नांदेड़ बोर्ड के प्रबंधक उपिंदर सिंह ने निरीक्षण के लिए 22 सितंबर को अकोला रेलवे स्टेशन का दौरा किया. इस अवसर पर सामाजिक कार्यकर्ता एवं विधिक सेवा समिति के सदस्य विजय जीतकर ने प्रबंधक के निजी सहायक रघुराम को विभिन्न मांगों का निवेदन दिया. निवेदन में अकोला खंडवा मीटर गेज रेलवे लाइन को ब्रॉड गेज में बदलने के लिए करीब चार साल से लाइन बंद है.

    अकोट तक ब्राड गेज परिवर्तन का कार्य पूरा कर लिया गया है. साथ ही अकोट में एक सुसज्जित रेलवे स्टेशन का निर्माण कार्य लगभग पूरा हो गया है. इस रेलवे स्टेशन को समर्पित कर रेल सेवा शुरू की जाए. वर्तमान में अकोला से पूर्णा के बीच डेमू ट्रेन चल रही है. यह डेमू ट्रेन अकोट तक चलाई जानी चाहिए. अकोला-वाशिम-हिंगोली-पूर्णा-परभणी-जालना होते हुए अकोट-औरंगाबाद-अकोट न्यू डेली इंटरसिटी एक्सप्रेस शुरू करना चाहिए.

    पूर्णा-अकोला होते हुए नांदेड़-अकोट-नांदेड़ न्यू फास्ट पैसेंजर चलाई जाए. निवेदन में विभिन्न मांगें रखी गई हैं कि हैदराबाद-पूर्णा पैसेंजर को हिंगोली-वाशिम-अकोला से अकोट तक इंटरसिटी एक्सप्रेस में बदला जाए और पूर्णा से अकोला आने वाली सभी ट्रेनों को अकोट की ओर डायवर्ट किया जाए. यदि उपरोक्त ट्रेनें चलने लगती हैं, तो इससे अकोट और उसके आसपास के छात्रों, किसानों और व्यापारियों को लाभ होगा. निवेदन की प्रतियां दक्षिण मध्य रेलवे सिकंदराबाद के महाप्रबंधक तथा पूर्व केंद्रीय मंत्री और सांसद संजय धोत्रे को भेजी गई हैं.