ST bus

अकोला. जिले भर से बड़ी संख्या में श्रद्धालु गजानन महाराज के दर्शन हेतु शेगांव के लिए जाते हैं. कोरोना के कारण एसटी सेवा बंद कर दी गईं थी. हालांकि, श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए, एसटी प्रशासन ने केंद्रीय बस स्टैंड से 32 बसें शुरू करने की जानकारी दी हैं. कोरोना का प्रादुर्भाव होने के बाद सतर्कता की दृष्टि से रापनि ने विविध मार्ग की बस फेरियां बंद की थी. जिसके कारण बस स्टैंड वीरान दिखाई दे रहा था. जिससे डिपो क्षेत्र में बसें खड़ी कर दी गईं.

ड्राइवर भी डिपो से वापिस लौट रहे थे क्योंकि वह ड्यूटी पर नहीं थे. अनलाक प्रक्रिया शुरू होने के बाद धीरे धीरे बसे शुरू की गयी. ट्रेन के टिकट कम होने के कारण कई लोग ट्रेन से यात्रा करते हैं. शहर के कई लोग हर गुरुवार को नियमित रूप से शेगांव जाते हैं. चूंकि ट्रेन और बस दोनों बंद थे, इसलिए भक्तों के पास अच्छा समय था. जिससे भक्तगण दुपहिया से जा रहे थे.

एस.टी. बस की सफाई जरूरी

कोरोना को संकट अब तक पूरी तरह से खत्म नहीं हुआ है. जिससे प्रत्येक बस को डिपो से बाहर निकालने से पहले धोकर अच्छी तरह से साफ करने के निर्देश विभागीय यातायात अधिकारियों ने डिपो प्रमुखों को दिए हैं. उन्होंने कहा कि एसटी में यात्रियों की भीड़ की अनुमति न दें और यात्रियों को मास्क लगाने के निर्देश भी दिए जाने चाहिए.

अधिकारियों की तत्परता

श्रद्धालुओं की असुविधा को देखते हुए एसटी निगम के अधिकारियों ने तत्परता दिखाते हुए विभाग नियंत्रक चेतना खिरवाड़कर व विभागीय यातायात अधिकारी स्मिता सुतवणे ने शेगांव जाने के लिए बस फेरियां शुरू करने के निर्देश दिए हैं. जिससे संत गजानन महाराज के भक्तों को दर्शन लाभ सुलभ हुआ है. इसी तरह इस मार्ग की ओर जानेवाले यात्रियों को भी सुविधा हुई है.