लगातार बदरीले मौसम, कीटकों के कारण तुअर की फसल हो रही प्रभावित

    किसानों द्वारा तुअर की फसल पर छिड़काव जारी 

    अकोला. पिछले कुछ दिनों से शुरू बदरीले मौसम के कारण तुअर की फसल लगातार प्रभावित हो रही है. यह उल्लेखनीय है कि अत्यधिक बारिश के कारण करीब करीब सभी खरीफ फसलें प्रभावित हुई हैं. कुछ क्षेत्रों में बादल फटने के समान बारिश होने के कारण भी खरीफ फसलें बर्बाद हुई थी. अभी कुछ दिनों से या तो धूप पड़ती हैं.

    या फिर अचानक मौसम ठंडा हो जाता है, उस पर कुछ दिनों से मौसम में अचानक परिवर्तन शुरू हो गया है. जिले में करीब करीब सभी जगह उमस का वातावरण है और पिछले कई दिनों से लगातार बदरीला मौसम शुरू है. इस उमस और बदरीले वातावरण के कारण कीटकों के लिए यह पोषक वातावरण साबित हो रहा है.

    इस कारण से तुअर की फल्लियों पर इल्लियों का संक्रमण बढ़ा है. जिसके कारण जिले के कुछ क्षेत्रों में तो ऐसा देखा जा रहा है कि तुअर के फूल पौधों से गलकर गिर रहे हैं. इसी तरह तुअर के पौधों में लगी फल्लियों की स्थिति भी खराब हो रही है. अत्यधिक बारिश के कारण खरीफ फसलों में सोयाबीन तथा कपास की फसलों का भी काफी नुकसान हुआ है और अब तुअर की फसल भी प्रभावित हो रही है. इस समय खरीफ फसलों में सिर्फ कपास और तुअर की फसल ही खेतों में हैं. 

    उत्पादन घटने की संभावना

    तुअर की फसल पर विविध कीटकों का प्रभाव तथा बदरीला मौसम होने के कारण निश्चित ही इस बार तुअर का उत्पादन घट सकता है. कई स्थानों पर मौसम में परिवर्तन तथा हल्की बारिश होने के कारण भी तुअर की फसलों को नुकसान पहुंचा है. यही सब देखकर ऐसा लगता है कि निश्चित ही इसका प्रभाव उत्पादन पर पड़ेगा. जिले के अनेक क्षेत्रों में बदरीला मौसम तथा विविध प्रकार के कीटकों से तुअर की फसल लगातार प्रभावित हो रही है. इस कारण अनेक क्षेत्रों में किसान वर्ग काफी चिंतित देखा जा रहा है. 

    कीटकों पर नियंत्रण के लिए फव्वारा मारें

    तुअर की फसल पर कीटकों का नियंत्रण करने के लिए फव्वारा मारें. प्रोफ्रेनोफॉस या विचनॉलफॉस 20 मि.मी. 10 लीटर पानी इस प्रमाण में करें तथा दूसरा फव्वारा इमामेक्टिन बेंझोएट 4 ग्राम 10 लीटर पानी में मिलाकर फव्वारा मारे. कोहरे का असर टालने के लिए इन दोनों कीटनाशकों के साथ कार्बेडाझिम 25 ग्राम प्रति 10 लीटर पानी में मिलाकर फव्वारा मारे. इसी तरह कीटकों पर नियंत्रण हेतु पंछियों की बैठक भी उपयोगी साबित हो सकती है.