शहीद नीलेश धांडे की याद में गांव में व्यायाम शाला और पुस्तकालय शुरू करेंगे: पालक मंत्री बच्चू कडू

    अकोट. नीलेश धांडे का निधन एक अपूरणीय क्षति है. हम गांव में नीलेश धांडे की स्मृति में एक व्यायाम शाला और पुस्तकालय उपलब्ध कराएंगे. ताकि भविष्य में देश की सेवा के लिए बच्चे तैयार हो सकें. और हम हमेशा नीलेश धांडे के परिवार के सुख दुख में सहभागी रहेंगे. यह प्रतिपादन पालकमंत्री बच्चू कडू ने किया है. तहसील के ग्राम वरुर जऊलका के नीलेश धांडे का देश की सेवा के लिए बीआरओ विभाग में कार्यरत थे. उनको देश सेवा करते हुए वीरमरण प्राप्त हुआ.

    इस कारण पंचक्रोशी के सभी गांव और ग्रामस्थ शोकमग्न हो गए, सभी को गहरा दुःख हुआ. परिवार को सांत्वना देने के लिए वरुर जऊलका स्थित योग योगेश्वर संस्थान में शहीद नीलेश धांडे मित्र परिवार की ओर से श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया. इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रुप में पालकमंत्री बच्चू कडू बोल रहे थे. 

    इस अवसर पर नीलेश धांडे के माता-पिता, पत्नी और भाई उपस्थित थे. कार्यक्रम का संचालन योग योगेश्वर संस्थान के अध्यक्ष गणेश महाराज शेटे ने किया. कार्यक्रम में उप विभागीय अधिकारी श्रीकांत देशपांडे, कपिल ढोके, सुशील पुंडकर, कुलदीप पाटिल वसु, निखिल गावंडे, गुड्डू घनबहादुर, पिंटू काठोले, बालू सोंनटक्के, राजकुमार धारपावर, प्रवीण अंभोरे, वैभव तायडे, सुमेध घनबहादुर आदि ने अपने विचार व्यक्त किए. यह जानकारी गणेश महाराज शेटे की ओर से दी गई.