राहुल गांधी-अजित पवार-शरद पवार (डिजाइन फोटो)
राहुल गांधी-अजित पवार-शरद पवार (डिजाइन फोटो)

Loading

मुंबई: महाराष्ट्र की राजनीति (Maharashtra Politics) में कब क्या हो जाये यह कोई नहीं बता सकता। ऐसे में अब चर्चा शुरू हो गई है कि महाराष्ट्र में एक बार फिर सियासी भूचाल आएगा। दरअसल इस चर्चा के शुरू होने की वजह अजित पवार गुट के नेता विधायक अमोल मिटकारी का दावा है। अमोल मिटकारी (Amol Mitkari) ने दावा किया कि कांग्रेस (Congress) और शरद पवार गुट ( Sharad Pawar faction) के विधायक (MLA) हमारे संपर्क में हैं और वे जल्द ही अजित पवार गुट ( Ajit Pawar faction) में शामिल होंगे। 

महाराष्ट्र की राजनीति में उथल-पुथल 

निजी मीडिया से बात करते हुए अमोल मिटकारी ने दावा किया है कि लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी के 7 विधायक और शरद पवार गुट के 5 विधायक अजित पवार गुट में शामिल होंगे। जैसा कि हम सब जानते है पिछले कुछ दिनों में बीजेपी और उसके सहयोगी दलों में बड़ी मात्रा में दूसरी पार्टियां छोड़कर नेताओं का आना शुरू हो गया है। ऐसे में अब लोकसभा चुनाव से पहले विपक्षी दलों के नेता बीजेपी की राह पकड़ रहे है।

अमोल मिटकारी (फाइल फोटो)

बारामती में वही होगा जो अजित कहेंगे 

इसके अलावा मिटकरी ने यह भी बताया कि बारामती में किसे उम्मीदवारी मिलेगी और कितनी लोकसभा सीटें मिलनी चाहिए। आगे उन्होंने कहा कि बारामती में वही होगा जो अजित पवार दादा कहेंगे। वहां सारा विकास दादा ने ही किया है। मिटकारी ने कहा कि हमारी मांग है कि सुनेत्रा पवार को उम्मीदवार बनाया जाए। आगे उन्होंने कहा कि हमारा आग्रह है कि लोकसभा को 10 सीटें मिलें। खबर है कि बारामती में सुप्रिया सुले के खिलाफ चुनाव लड़ने अजित पवार अपनी पत्नी सुनेत्रा पवार को उम्मीदवारी दे रहे है। 

दावे से चर्चा 

गौरतलब हो कि कुछ दिन पहले पूर्व विधायक, पूर्व मंत्री बाबा सिद्दीकी ने लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया था और अजित गुट में शामिल हो गए थे। उनके साथ कई कार्यकर्ता भी अजित पवार के ग्रुप में शामिल हो गए हैं। ऐसे में अब मिटकरी ने किया यह दावा कही सच तो नहीं? इस पर सबकी नजरें है।