10 hours camp of Shiv Sainiks, fireworks; Hallabol in front of Rana Niwas

    • बैरीकेटिंग तोड़कर घुसने का प्रयास, राणा ने लगाया पथराव का आरोप

    अमरावती. मुख्यमंत्री उध्दव ठाकरे के मुंबई स्थित मातोश्री निवास स्थान पर हनुमान चालीसा पठन करने गए विधायक रवि राणा व सांसद नवनीत राणा के अमरावती के शंकरनगर स्थित गंगा सावित्री बंगले पर शनिवार की दोपहर शिवसैनिकों ने हल्लाबोल किया. कड़े पुलिस बंदोबस्त के बावजूद शिवसैनिकों ने बैरीगेट्स तोडकर राणा के बंगले में घुसने का प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने उन्हें खदेड़ दिया. जिससे पुलिस व शिवसैनिकों ने धक्कामुक्की भी हुई. शिवसैनिकों ने आक्रमक होकर जमकर नारेबाजी कर रोष व्यक्त किया.

    शिवसैनिकों ने राणा बंगले के सामने हनुमान चालीसा का 2 बार पठन भी किया. इस गरमा गरमी के दौरान एक कार्यकर्ता ने राणा के घर के शेड पर पत्थर फेंकने का आरोप राणा ने लगाया है, जबकि किसी भी प्रकार का पथराव नहीं हुआ है ऐसा पुलिस का कहना है. शिवसैनिकों ने राणा के निवास के सामने सुबह से शाम 10 घंटे ठिया आदोलन किया. राणा व्दारा मातोश्री पर जाने का निर्णय वापस लिए जाने के खुशी में शिवसैनिकों ने राणा के घर के सामने आतीशबाजी की.

    बैरीगेट ढकेलकर गेट पर चढ़े कार्यकर्ता

    राणा दंपति ने शनिवार सुबह 9 बजे मातोश्री पर पहुंचने का अल्टीमेटम दिया था. जिससे आक्रमक होकर शिवसेना जिला प्रमुख सुनिल खराटे, दिनेश बुब ज्ञानेश्वर धाने पाटील, प्रविण हरमकर, विभागीय महासचिव सागर देशमुख, शाम धाने पाटील, महानगर प्रमुख पराग गुडधे, जिला प्रमुख राजेश वानखडे, सुनील राऊत, प्रशांत वानखडे, भारत चौधरी, महिला आघाडी जिला प्रमुख मनिषा टेंभरे, वर्षा भोयर, उपजिलाप्रमुख नरेंद्र निर्मल सहित सैकड़ों शिवसैनिकों सुबह 9 बजे शंकर नगर स्थित विधायक रवि राणा के गंगा सावित्री बंगले को घेर लिया. लेकिन यहां पहले ही डीसीपी विक्रम साली, थानेदार मनीष ठाकरे, राजापेठ पुलिस, क्युआरटी, आरसीपी दल के साथ तगड़ा बंदोबस्त तैनात रहने से शिवसैनिकों को रोक लिया.

    यहां सेना कार्यकर्ताओं ने जय भवानी, जय शिवाजी, रवि राणा का निषेध असो जैसे नारे लगाकर विरोध प्रदर्शन किया. इस दौरान किसी ने राणा के बंगले की ओर एक पत्थर फेकने का आरोप विधायक रवि राणा ने सोशल मीडिया पर एक वीडियों अपलोड कर किया. इस बात से भड़क उठे शिवसैनिक और अधिक आक्रमक हो गए. शिवसैनिकों ने बैरीकेटींग ढकेलकर राणा के प्रवेश गेट पर चढ़ गए. जिससे पुलिस व कार्यकर्तओं में खिंचतान होकर धक्कामुक्की हुई. फिर भी पुलिस ने भारी बल प्रयोग करके सेना कार्यकर्ताओं को रोक लिया.

    हनुमान चालीसा पठन

    इस दौरान शिवसैनिक राणा के घर के सामने बैठक गए. जिन्होंने लगातार 2 बार हनुमान चालीसा पठन किया. महिला शिवसैनिकों ने रोष व्यक्त करके रवि राणा मुर्दाबाद, नवनीत राणा मुर्दाबाद के नारे लगाये. इस समय आशीष धर्माले, मनिषा टेंभरे, वर्षा भोयर, उपजिलाप्रमुख नरेंद्र निर्मल, नरेंद्र पडोळे, मनोज कलु, उपमहानगर प्रमुख संजय शेटे, पंजाब तायवाडे, विजय ठाकरे, जयश्री  कुर्हेकर, अर्चना धामणे, महिला शहर प्रमुख राजश्री जठाले, उपशहर प्रमुख सारिका जैस्वाल, प्रतिभा बोपशेट्टी, निलिमा चावके सहित सैकड़ों शिवसैनिक घर के सामने डटे रहे. इस बीच विधायक रवि राणा ने दोपहर 4 मातोश्री ना जाकर आंदोलन पीछे लेने की घोषणा करने के बाद शिवसैनिकों ने राणा के घर के सामने आतीशबाजी करके जश्न मनाया. यहां प्रत्येक कार्यकर्ता को जलेबी बांटकर खुशियां मनाई. शिवसैनिकों को राणा के घर के सामने सुबह 9 से शाम 7 बजे तक ऐसा कुल 10 घंटे ठिया आंदोलन चलता रहा.

    देवेंद्र व राणे न्याय के लिए आवाज उठाए 

    जिस तरह पुलिस उनके घर में घुसकर उन्हें जबरन पुलिस स्टेशन ले जा रही है, वह शुक्रवार से आंदोलन का प्रयास कर रही है, लेकिन पुलिस ने उन्हें जो नोटिस थमाया है, जनप्रतिनिधि होने के नाते वह घर के बाहर नहीं निकली है. लेकिन पूरे डिपार्मेट के लोग उनके घर में घुस आये है. संविधान नियम व कानून का पालन नहीं किया जा रहा. महाराष्ट्र में यह कौनसा संविधान व नियमों का पालन हो रहा है. वह 25 लाख लोगों का नेतृत्व कर रही है.

    लेकिन इस तरह की गुंडागर्दी उन्होंने अब तक प्रदेश में नहीं देखी. विधायक व सांसद को जबरदस्ती गाडी में बैठाकर पुलिस स्टेशन ले जा रहे है. वह देंवेंद्र फडणवीस व नारायण राणे से विनंती करती हुं कि राज्य में तुम्हारे जैसे नेता होने के बाद भी इस तरह का व्यवहार जनप्रतिनिधियों के साथ हो रहा है. तुम्हारे मदद की सख्त आवश्यकता है. यदि हमे न्याय नहीं मिल रहा है, तो आने वाले समय में कोई भी न्याय के लिए लड़ने वाला नहीं रहेगा.- नवनीत राणा, सासंद

    घर पर हमला व पथराव 

    अमरावती में कुछ शिवसैनिकों ने उनके घर पर हमला कर पथराव किया है, जबकि उनके घर में दो बच्चे व परिवार के सदस्य है. वहीं पुलिस हाथ पर हाथ रखकर बैठी है. मुख्यमंत्री व गृहमंत्री के आदेश पर यह हमला किया गया है. इसकी पूर्ण जिम्मेदारी मुख्यमंत्री व गृहमंत्री की रहेगी.- रवि राणा, विधायक

    सीएम के खिलाफ रिपोर्ट

    उध्दव ठाकरे सहित 500 कार्यकर्ताओं के खिलाफ शिकायत विधायक रवि राणा व सांसद नवनीत राणा ने सीएम उध्दव ठाकरे, सांसद संजय राऊत, विधायक अनिल परब सहित 500 कार्यकर्ताओं के खिलाफ मुंबई डीसीपी मंजुनाथ शिंगणे को 5 पन्नों की लिखित रुप से शिकायत दी. जिसमें उनके निवासस्थान गैरकानून ढंग से इकठ्ठा होकर जान से मारने का प्रयास किया गया. जिनके खिलाफ कार्रवाई करें.

    राजापेठ में भी रिपोर्ट

    राणा दंपति पर जिस तरह मुंबई में भडकाऊ भाषण देने के तहत मामला दर्ज किया गया है, उसी तरह राजापेठ थाने में भी मामले दर्ज करने के लिए शिवसैनिक गए थे. राज्य में नफरत फैलाने का प्रयास किया है, जो शिवसेना ने विफल किया है.- सुनील खराटे, जिला प्रमुख, शिवसेना