Coronavirus
Representational Pic

    अमरावती. कोरोना की तीसरी लहर महत 150 किलोमीटर पर नागपुर में दस्तक दे चूकी है. हालांकि जिले में नए कोरोना मरीजों की संख्या प्रतिदिन इक्का दुक्का ही है. लेकीन संभावित परिस्थितियों के मद्देनजर स्वास्थ्य प्रशासन ने पुख्ता इंतजाम किए है. जिसके तहत जिले के 11 तहसीलों में 16 आक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे है.

    जिनमें से 5 प्लांट सिटी में होंगे. सुपर स्पेशालिटी में 3 प्लांट के साथ जिला सरकारी अस्पताल (इर्विन) तथा जिला स्त्री अस्पताल (डफरीन) भी प्लांट होगा. इन प्लांटों का निर्माण अंतिम चरण में है. आगामी कुछ दिनों में सभी प्लांट सुचारु होंगे.

    9 प्लांट सीएसआर फंड से

    इन 16 प्लांट में कॉरपोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी (सीएसआर) फंड से 9 प्लांट बने है. इनमें अमेरीकन फाऊंडेशन, आरआर पोटे फाऊंडेशन, डीआरडीओ (पीएम केयर फंड), अवादा, टाटा तथा हरमन केमिकल्स कंपनी ने योगदान दिया है. इसके अलावा जिला प्रशासन द्वारा शेष 7 प्लांट का निर्माण किया गया है. जिसके लिए लगभग 4 करोड 25 लाख 60 हजार रुपए खर्च लगा है. 

    1249 बेड की होगी व्यवस्था

    सिटी में पांच प्लांट के अलावा दर्यापुर, चांदूर रेलवे, मोर्शी, अचलपुर कुटीर अस्पताल, अंजनगांव सुर्जी, धारणी, तिवसा, मोझरी (तिवसा), नांदगांव खंडेश्वर, चांदूर बाजार, बेनोडा (वरुड) में भी प्लांट लगाए जाएंगे. जिनकी क्षमता न्यूनतम 130 लिटर पर मीनट (एलपीएम) से लेकर 1000 एलपीएम तक है. जिनकी मदद से 1249 बेडों को आक्सीजन मुहैया कराया जा सकेगा.

    पीएम के हस्ते शुभारंभ की तैयारी

    आक्सीजन प्लांट इन्स्टालेशन का जिम्मा संभाल रहे मुख्य औषधि निर्माण अधिकारी अशोक किनवटकर के अनुसार सभी प्लांट सुचारू होने के बाद इस प्रकल्प का शुभारंभ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हस्ते आनलाइन करने के लिए प्रयास किया जा रहा है.

    यहां लगेंगे आक्सीजन प्लांट व उनकी क्षमता 

    आक्सीजन प्लांटक्षमता (एलपीएम)

    सुपर स्पेशालिटि अस्पताल500

    सुपर स्पेशालिटि अस्पताल 130

    सुपर स्पेशालिटि अस्पताल 1000

    जिला सरकारी अस्पताल 600

    जिला स्त्री अस्पताल 600

    दर्यापुर 200

    चांदूर रेलवे 130

    मोर्शी 200

    अचलपुर कुटीर अस्पताल 1000

    अंजनगांव सुर्जी 210

    धारणी 210

    तिवसा 210

    मोझरी (तिवसा) 1000

    नांदगांव खंडेश्वर 210

    चांदूर बाजार 210

    बेनोडा (वरुड) 210