amravati university

Loading

  • 40 उम्मीदवारों के आवेदनों पर विचार शुरू

अमरावती. अमरावती संत गाडगे बाबा अमरावती विश्वविद्यालय के 9वें कुलगुरु पद हेतु कुल 115 आवेदन प्राप्त हुए है. इनमें से करीब 75 आवेदनों को पड़ताल के बाद रेस से बाहर कर दिए जाने की जानकारी है. वहीं अब 40 उम्मीदवारों के आवेदनों पर कुलगुरु पद हेतु विचार किया जाएगा, ऐसी जानकारी है. अब कुलगुरु पद हेतु प्रत्याशियों के आवेदन में नियम व शर्तों तथा शैक्षणिक पात्रता की जांच की जाएगी.

पुणे में हुई चयन समिति की बैठ

जानकारी के मुताबिक पुणे में कुलगुरु चयन समिति की पहली बैठक संपन्न हुई जिसमें कुलगुरु पद हेतु प्राप्त सभी आवेदनों की पड़ताल की गई. अमरावती विद्यापीठ के कुलगुरु पद हेतु राज्य सहित अन्य राज्यों से भी आवेदन प्राप्त हुए हैं जिसके तहत दिल्ली व मध्यप्रदेश के शिक्षाविदों की ओर से मिले आवेदनों का समावेश है. ऐसे में राज्य सरकार ने अमरावती विद्यापीठ के नये कुलगुरु का चयन करने हेतु 4 सदस्यीय समिति का गठन किया है. अध्यक्ष पद पर आईआईटी कानपुर के डॉ. संजय धांडे व सदस्य पद पर एसवीएनआईटी (सूरत) के डॉ. अनुपम शुक्ला, लखनउ विद्यापीठ के डॉ. मनोज दीक्षित तथा नोडल अधिकारी के तौर पर शासकीय अभियांत्रिकी कॉलेज (पुणे) के डॉ. सुजित परदेशी का समावेश है.

अमरावती विद्यापीठ के कुलगुरु पद हेतु कई शिक्षाविद इच्छुक है. इसमें से कुछ इच्छुकों द्वारा ‘परिवार’ के जरिए तथा कुछ के द्वारा राजनीतिक दृष्टि से फिल्डिंग लगाई जा रही है. परंतु कुलगुरु पद पर योग्य व्यक्ति विरोजमान हो, इस हेतु वरिष्ठ स्तर से सोशल इंजीनियरिंग का प्रयोग चलाया जा सकता है, ऐसी जानकारी सामने आयी है.