Some cities still need rain in the district, water storage reduced
file

    अमरावती. रिपब्लिकन पार्टी ऑफ इंडिया के जिलाध्यक्ष सुनील रामटेके ने आरोप लगाया कि चांदूर रेलवे तहसील अंतर्गत सावंगी मंग्रापुर की सरपंच शालू राजू सूर्यवंशी और उपसरपंच जोरावर खां पठान ने वार्ड क्रमांक 1 की जलापूर्ति गत 20 वर्षों से रोक रखी है. जबकि वार्ड क्र. 2 और 3 में सुचारु रूप से जलापूर्ति हो रही है. वार्ड क्र. 1 में निवासरत 80 परिवार के 325 लोग जलसंकट से जूझ रहे हैं. यदि इस मामले में शीघ्र कार्रवाई नहीं की गई तो म न्यायालय की शरण में जाने की चेतावनी भी उन्होंने बुधवार को पत्र वार्ता में दी. इस समय उनके साथ मनोहर गेडाम, लौकिक डोंगरे, प्रफुल्ल मेश्राम, सीमा डोंगरे, नलीनि बोरकर के साथ बड़ी संख्या में सावंग्री मंग्रापुर के वार्ड 1 के नागरिक उपस्थित थे. 

    मतदान नहीं करने से भेदभाव

    पत्र वार्ता में आरोप लगाया कि वार्ड क्र. 1 के नागरिक सरपंच व उपसरपंच को मतदान नहीं करने के चलते 20 वर्ष से पदासीन सरपंच और उपसरपंच उनके साथ भेदभाव कर रहे हैं. यही नहीं वार्ड क्र. 1 में टैंकर से पानी पहुंचाए जाने पर उसे भी रोक दिया जाता है. सरपंच और उपसरपंच का गांव में दबदबा होने के कारण वार्ड क्र. 1 के नागरिकों की समस्याओं को नजरअंदाज किया जा रहा है.

    शिकायत पर कार्रवाई नहीं

    सरपंच और उपसरपंच ने 2 फरवरी 2022 को मनोहर गेडाम का बहिष्कार कर अन्य लोगों को भी उनका बहिष्कार करने के लिए उकसाने का आरोप लगाया है. इस कारण गेडाम को परिवार सहित गांव छोड़ना पड़ा. 3 फरवरी की सुबह आरोपियों ने उनके पहचान के व्यक्ति को भेजकर गेडाम को गालीगलौच कर जान से मारने की धमकी दी. रामटेके ने आरोप लगाया कि जब भी इस मामले में पुलिस से शिकायत की जाती है, तो आरोपी पक्ष के लोग शिकायतकर्ता पर हमला कर देते हैं और पुलिस इस मामले में कड़ी कार्रवाई नहीं करती. फरवरी माह में जिलाधिकारी, पुलिस अधीक्षक, एसडीओपी, चांदुर रेलवे से भी शिकायत की गई लेकिन अब तक आरोपियों को गिरफ्तार नहीं किया गया.