अचलपुर विस में 3 एमआइडीसी, तोंडगांव, भूगांव, चांदूर बाजार औद्योगिक क्षेत्र को मंजूरी

    अमरावती. जिले के अचलपुर विस क्षेत्र में स्थानीयों के रोजगार निर्माण करने के लिए उद्योगों को बढ़ावा देने की आवश्यकता को लेकर जल संसाधन एवं श्रम राज्य मंत्री ओमप्रकाश उर्फ ​​बच्चू कडू ने राज्य के उद्योग मंत्री सुभाष देसाई से भेंट की थी. जिसके बाद अचलुपर, चांदूर बाजार परिसर में तीन एमआईडीसी निर्माण को मंजूरी दी गई है. इसके अनुसार तोंडगांव, भूगांव और चांदूर बाजार में औद्योगिक क्षेत्र स्थापित किए जाएंगे.

    किसानों को वापिस मिलेगी उपजाऊ जमीन

    तोंडगांव एमआइडीसी के लिए किसानों की उपजाऊ जमीनें ली गई. लेकिन यहां अब तक एक भी उद्योग शुरू नहीं हुआ. इस संदर्भ में कडू ने अमरावती में औद्योगिक विकास महामंडल के अधिकारियों के साथ बैठक लेकर तोंडगाव एमआइडीसी के प्रश्न के साथ अन्य मुद्दों की भी समीक्षा की थी. तोंडगांव एमआइडीसी में उपजाऊ जमीन पर उद्योग नहीं होने से यह जमीनें लौटाने की मांग किसानों द्वारा की जा रही थी.

    इसे मंजूरी देते हुए शेष जमीन पर उद्योग स्थापित करने प्रक्रिया को गति देने के निर्देश बैठक में अधिकारियों को दिए गए. अमरावती-परतवाड़ा मार्ग पर भूगांव में 30 हेक्टेयर भूमि पर एमआईडीसी की स्थापना की जाएगी. चांदूर बाजार तहसील स्थान है और दक्षिण-उत्तर से सीधे रेल द्वारा जुड़ा हुआ है. इसलिए एमआइडीसी के विकास की आवश्यकता होने की बात कडू ने कहीं. तद्नुसार तोंडगांव, भूगांव एवं चांदूर बाजार में औद्योगिक क्षेत्र विकसित करने की मंजूरी प्रदान की गई.

    प्रायोगिक तत्व पर ग्रामोद्योगों केंद्र

    जिला और तहसील स्तर पर औद्योगिक क्षेत्र स्थापित किए जाते हैं. इसी तर्ज पर 25000 की आबादी वाले गांवों में ग्रामोद्योग केंद्र स्थापित करने पर ग्रामीण क्षेत्रों के स्वयं सहायता समूहों, छोटे कारीगरों और श्रमिकों को लाभ होने के साथ क्षेत्र में रोजगार उपलब्ध होगा. यह संकल्पना कडू द्वारा प्रस्तुत की गई.

    ऐसे केंद्र ग्रामीण विकास की दृष्टि से उपयोगी साबित होंगे. इसलिए यह प्रोजेक्ट प्रायोगिक तर्ज पर लागू करने की मंजूरी दी गई. इसके अनुसार प्रायोगिक तत्व पर कुछ स्थानों का चयन कर 10 से 20 एकड़ भूमि पर ग्रामोद्योग केंद्र स्थापित किए जाएंगे.